बदायूं: निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज को जल्द मिल सकती है MCI मान्यता

सूबे के स्वास्थ्य महकमे में सुधार के लिए योगी सरकार ने निचले स्तर से काम करना शरू कर दिया है. शायद यही वजह है कि बदायूं जिले की निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज के कामकाज में तेजी लाने व मेडिकल कॉलेज को MCI से मान्यता दिलाने की कवायद तेज हो गई है.

ETV UP/Uttarakhand
Updated: October 6, 2017, 12:29 PM IST
ETV UP/Uttarakhand
Updated: October 6, 2017, 12:29 PM IST
सूबे के स्वास्थ्य महकमे में सुधार के लिए योगी सरकार ने निचले स्तर से काम करना शुरू कर दिया है. शायद यही वजह है कि बदायूं जिले की निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज के कामकाज में तेजी लाने व मेडिकल कॉलेज को MCI से मान्यता दिलाने की कवायद तेज हो गई है.

बीते गुरूवार को टीम प्रभारी राम मनोहर लोहिया, लखनऊ के डॉ मुकुल मिश्रा के साथ 4 सदस्यों की टीम ने बदायूं मेडिकल कॉलेज का दौरा किया है. माना जा रहा है कि दौरे की रिपोर्ट शासन को भेजे जाने के बाद कॉलेज की मूल समस्याओं और फैकल्टी के कामकाज को दुरुस्त किया जा सकेगा.

उल्लेखनीय है गोरखपुर हादसे के बाद योगी सरकार ने प्रदेश में नवनिर्मित 8 मेडिकल कॉलेजों के कामकाज में सुधार के लिए अलग-अलग टीमें बनाई है, जो बदायूं, कन्नौज, बांदा, आज़मगढ़, जालौन, सहारनपुर, कानपूर, अम्बेडकरनगर दौरा कर रही है.

रिपोर्ट के मुताबिक दौरे पर आई टीम ने निर्माणाधीन बदायूं मेडिकल कॉलेज के कामकाज व कई फैकल्टी के कामों को अधूरा पाया है. हालांकि 650 करोड़ रुपए के अनुमानित लागत से बनने वाले मेडिकल कॉलेज को शासन से अभी महज 350 करोड़ ही आवंटित हुआ है.

बताया जाता है अभी तक कॉलेज का 60% काम ही पूरा हो सका है. यही कारण है कि मेडिकल काउंसिल ऑफ़ इंडिया (MCI) टीम ने कॉलेज की मान्यता प्रदान करने से इनकार कर दिया था.
First published: October 6, 2017, 12:27 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...