ठंडे पड़े मुलायम बोले, ‘बलात्‍कार के लिए फांसी की सजा पर देश में बहस हो’

शक्ति मिल गैंगरेप पर विवादित बयान देने वाले मुलायम सिंह यादव ने शुक्रवार को सफाई दी। उन्‍होंने कहा, ‘हम महिलाओं की इज्‍जत करते हैं, हमने हमेशा उनका सम्‍मान किया है। बदायूं में मीडिया से बात करते हुए मुलायम ने कहा, ‘मैंने कुछ गलत नहीं कहा है। बलात्‍कारियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए, लेकिन निर्दोष को सजा नहीं होनी चाहिए। मेरा मानना है कि बलात्‍कार की सजा फांसी नहीं होनी चाहिए, इस पर पूरे देश में बहस होनी चाहिए।

शक्ति मिल गैंगरेप पर विवादित बयान देने वाले मुलायम सिंह यादव ने शुक्रवार को सफाई दी। उन्‍होंने कहा, ‘हम महिलाओं की इज्‍जत करते हैं, हमने हमेशा उनका सम्‍मान किया है। बदायूं में मीडिया से बात करते हुए मुलायम ने कहा, ‘मैंने कुछ गलत नहीं कहा है। बलात्‍कारियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए, लेकिन निर्दोष को सजा नहीं होनी चाहिए। मेरा मानना है कि बलात्‍कार की सजा फांसी नहीं होनी चाहिए, इस पर पूरे देश में बहस होनी चाहिए।

शक्ति मिल गैंगरेप पर विवादित बयान देने वाले मुलायम सिंह यादव ने शुक्रवार को सफाई दी। उन्‍होंने कहा, ‘हम महिलाओं की इज्‍जत करते हैं, हमने हमेशा उनका सम्‍मान किया है। बदायूं में मीडिया से बात करते हुए मुलायम ने कहा, ‘मैंने कुछ गलत नहीं कहा है। बलात्‍कारियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए, लेकिन निर्दोष को सजा नहीं होनी चाहिए। मेरा मानना है कि बलात्‍कार की सजा फांसी नहीं होनी चाहिए, इस पर पूरे देश में बहस होनी चाहिए।

  • News18
  • Last Updated: April 11, 2014, 4:01 PM IST
  • Share this:
शक्ति मिल गैंगरेप पर विवादित बयान देने वाले मुलायम सिंह यादव ने शुक्रवार को सफाई दी। उन्‍होंने कहा, ‘हम महिलाओं की इज्‍जत करते हैं, हमने हमेशा उनका सम्‍मान किया है। बदायूं में मीडिया से बात करते हुए मुलायम ने कहा, ‘मैंने कुछ गलत नहीं कहा है। बलात्‍कारियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए, लेकिन निर्दोष को सजा नहीं होनी चाहिए। मेरा मानना है कि बलात्‍कार की सजा फांसी नहीं होनी चाहिए, इस पर पूरे देश में बहस होनी चाहिए।



गौरतलब है कि मुलायम सिंह यादव ने गुरुवार को मुरादाबाद रैली में कहा था कि रेप के लिए फांसी की सजा देना गलत है, लड़कों से गलती हो जाती है। सपा सुप्रीमो ने यह भी वादा किया था कि अगर वह केंद्र में सरकार बनाने में सफल होंगे तो रेप के लिए फांसी की सजा में बदलाव करेंगे। उन्‍होंने कहा था कि कई मामलों में झूठी रिपोर्ट भी जाती है, जिससे बेकसूर फंस जाते हैं। झूठी शिकायत करने वालों पर भी कार्रवाई होनी चाहिए। मुलायम ने अपनी रैली में मुंबई के शक्ति मिल गैंगरेप केस का जिक्र करते हुए यह बयान दिया।



उन्‍होंने कहा था कि मुंबई तीन लड़कों को फांसी दे दी गई थी, जो नहीं होनी चाहिए थी। यह सरासर गलत है, लड़कों को सीधे-सीधे फांसी देना कानून का दुरुपयोग है। लड़के-लड़कियां पहले दोस्‍त होते हैं और जब झगड़ा हो जाता है तो केस दर्ज करा दिए जाते हैं। मुलायम के इस बयान के बाद भाजपा नेता उमा भारती ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि मुलायम सिंह के रेप कानून बदलने के बयान पर देश की महिलाओं को चुनाव में सपा का बहिष्कार करना चाहिए, जिसका नेतृत्व उनकी बहू डिंपल को करना चाहिए।
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज