Assembly Banner 2021

बदायूं में सियासत का दौर जारी

बदायूं में दो बहनों की दुष्कर्म के बाद हत्या पर सियासत जारी है। एक के बाद एक नेता बदायूं पहुंच रहे हैं। रविवार को बसपा प्रमुख मायावती बदायूं पहुंचीं, जबकि केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान सोमवार को बदायूं जाएंगे और पीड़ित परिजनों से मिलेंगे।

बदायूं में दो बहनों की दुष्कर्म के बाद हत्या पर सियासत जारी है। एक के बाद एक नेता बदायूं पहुंच रहे हैं। रविवार को बसपा प्रमुख मायावती बदायूं पहुंचीं, जबकि केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान सोमवार को बदायूं जाएंगे और पीड़ित परिजनों से मिलेंगे।

बदायूं में दो बहनों की दुष्कर्म के बाद हत्या पर सियासत जारी है। एक के बाद एक नेता बदायूं पहुंच रहे हैं। रविवार को बसपा प्रमुख मायावती बदायूं पहुंचीं, जबकि केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान सोमवार को बदायूं जाएंगे और पीड़ित परिजनों से मिलेंगे।

  • Last Updated: June 1, 2014, 5:11 PM IST
  • Share this:
बदायूं में दो बहनों की दुष्कर्म के बाद हत्या पर सियासत जारी है। एक के बाद एक नेता बदायूं पहुंच रहे हैं। रविवार को बसपा प्रमुख मायावती बदायूं पहुंचीं, जबकि केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान सोमवार को बदायूं जाएंगे और पीड़ित परिजनों से मिलेंगे।

रविवार सुबह मायावती पीड़ित परिवार से मिलीं। उन्होंने पीड़ित परिवार से कुछ देर बात की। वह उस जगह पर गईं जहां दो लड़कियों के शव पेड़ से लटके मिले थे। माया के साथ पार्टी नेता स्वामी प्रसाद मौर्य और नसीमुद्दीन सिद्दीकी भी थे।

मीडिया से बातचीत में मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश में जंगलराज है, महिलाओं की स्थिति बेहद खराब है। उन्होंने ऐलान किया कि उनकी पार्टी पीड़ित परिवार को पांच-पांच लाख रुपये की आर्थिक मदद देगी। माया ने आरोप लगाया कि पुलिस दबाव में आकर काम कर रही है।



मायावती से पहले, शनिवार को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी बदायूं पहुंचे थे। उन्होंने परिवार को इंसाफ का भरोसा दिया था। मायावती ने दावा किया था कि सीबीआई जांच का फैसला उनके ही दबाव में लिया गया है।
बदायूं की घटना के बाद कानून-व्यवस्था को लेकर समाजवादी पार्टी की सरकार लगातार विपक्ष के निशाने पर है। अखिलेश ने सीबीआई जांच के लिए सिफारिश कर हालांकि मामले को थोड़ा संभालने की कोशिश जरूर की, लेकिन सरकार पर हमले जारी हैं। बदायूं से सांसद और सपा प्रमुख मुलायम सिंह याद के भतीजे धर्मेद्र यादव ने एक बार फिर अपनी सरकार का बचाव करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने तुरंत कार्रवाई की, अब केंद्र सरकार की बारी है।
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज