Assembly Banner 2021

साध्‍वी प्राची ने शिवपाल को पागल कहा, आजम को 'घर वापसी' की सलाह दी

विवादित बयानों से हमेशा सुर्खियां और आलोचना बटोरने वाली भाजपा नेता साध्‍वी प्राची ने एक बार जहरीले बयान देकर कर विवाद पैदा कर दिया है।

विवादित बयानों से हमेशा सुर्खियां और आलोचना बटोरने वाली भाजपा नेता साध्‍वी प्राची ने एक बार जहरीले बयान देकर कर विवाद पैदा कर दिया है।

विवादित बयानों से हमेशा सुर्खियां और आलोचना बटोरने वाली भाजपा नेता साध्‍वी प्राची ने एक बार जहरीले बयान देकर कर विवाद पैदा कर दिया है।

  • Agencies
  • Last Updated: February 2, 2015, 9:45 AM IST
  • Share this:
विवादित बयानों से हमेशा सुर्खियां और आलोचना बटोरने वाली भाजपा नेता साध्‍वी प्राची ने एक बार जहरीले बयान देकर कर विवाद पैदा कर दिया है।

बदायूं में विश्‍व हिंदू परिषद सम्‍मेलन में रविवार को साध्‍वी ने कहा, 'मैंने केवल चार बच्‍चे पैदा करने की बात कही तो सियासी भूकंप आ गया, 35-40 पिल्‍ले पैदा करने को तो नहीं कहा।'

एक विशेष समुदाय पर टिप्‍पणी करते हुए प्राची ने कहा, 'ये लोग 35-40 पिल्‍ले पैदा करते हैं और फिर लव जेहाद फैलाते हैं।'



इस दौरान भाजपा नेता ने समाजवादी पार्टी के नेता शिवपाल सिंह यादव को भी नहीं बख्‍शा।
उन्‍होंने कहा, 'शिवपाल ने मुझे पागल कहा था। सच्‍चाई तो यह है कि शिवपाल ही असल में पागल हैं और उन्‍हें पागलखाने भेज देना चाहिए।'

इसके अलावा, साध्‍वी ने अखिलेश सरकार में कैबिनेट मंत्री व सपा नेता आजम खान पर भी तंज कसे। उन्‍होंने कहा कि आजम खान और तौफीक रजा भी 'घर वापसी' कर लें। इन दोनों नेताओं के लिए हिंदुओं के दरवाजे खुले हैं।

यहां तक कि भाजपा नेता ने महात्‍मा गांधी पर व्‍यंग्‍य के तीर छोड़े।

उन्‍होंने कहा, 'बापू का कहना था कि कोई तुम्‍हारे एक गाल पर थप्‍पड़ मारे तो दूसरा गाल आगे कर दो। अगर आज गांधी जिंदा होते तो मैं पूछती कि यदि कोई दूसरे गाल पर भी थप्‍पड़ मारेगा तो तीसरा गाल कहां से लाएं।'

सम्‍मेलन में साध्‍वी ने चार से अधिक बच्‍चे वाले परिवार को सम्‍मानित करने की भी बात कही।

उन्‍होंने कहा, 'अगर यहां आए लोगों में से किसी के पांच, छह, आठ या दस बच्‍चे हैं तो वे मेरे पास आएं। मैं उन्‍हें सम्‍मानित करूंगी।'

गौरतलब है कि पहले भी हिंदुओं को चार बच्‍चों की सलाह देने पर साध्‍वी की तीखी आलोचना हुई थी। कथित रूप से खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भाजपा नेताओं को विवादित बयान देने से बचने को कहना पड़ा।

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज