फिर छलका चाचा शिवपाल का दर्द, कहा- अगर ऐसा होता तो दोबारा CM बनते अखिलेश

शिवपाल यादव ने इशारों-इशारों में अखिलेश यादव पर भी हमला किया. उन्होंने कहा कि पार्टी नेतृत्व को कार्यकर्ताओं को सही ट्रेनिंग देनी चाहिए.

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 22, 2018, 11:12 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 22, 2018, 11:12 PM IST
समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता शिवपाल यादव ने एक बार फिर अखिलेश को लेकर अपना दर्द बयां किया. बदायूं के ककराला कस्बे में होने वाले उर्स में शामिल होने को आए शिवपाल ने अखिलेश को नसिहत दी कि पार्टी के कार्यकर्ताओं को सही ट्रेनिंग देने की जरूरत है.

शिवपाल यादव के आने की खबर के बावजूद पार्टी पदाधिकारियों के मौजूद न होने और बदायूं सांसद धर्मेंद्र यादव से मनमुटाव के सवाल पर कहा कि धर्मेंद्र मेरे साथ रहे, इनकी पढ़ाई लिखाई मैने कराई. इनकी और इनके परिवार की शादियां भी मैने कराईं हैं. धर्मेंद्र के पिताजी मेरे बड़े भाई हैं और आज भी मेरे साथ हैं.

उधर, शिवपाल यादव ने इशारों-इशारों में अखिलेश यादव पर भी हमला किया.
उन्होंने कहा कि पार्टी नेतृत्व को कार्यकर्ताओं को सही ट्रेनिंग देनी चाहिए. अगर ट्रेनिंग सही होती तो आज सपा अकेले बीजेपी का विकल्प होती और अखिलेश प्रदेश के दोबारा सीएम होते, बिहार में भी सपा गठबंधन की सरकार होती. यह गलतियां नहीं होनी चाहिए थी.


ये भी पढ़ें: अमर सिंह ने किया BJP का गुणगान, कहा- कश्मीर समस्या है कांग्रेस की देन

बसपा से गठबंधन के सवाल पर उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्णय पर में कोई कमेंट नहीं करूंगा. शिवपाल यादव ने पार्टी में हाशिए पर होने के सवाल पर कहा, हाशिए पर मैं तब जाता जब मेरे साथ पब्लिक न होती. पार्टी का कार्यकर्ता उनके साथ है, बिना सूचना के लोग इकट्ठे हो जाते हैं और उन्हें बुलाते हैं.

ये भी पढ़ें: UP के राज्यपाल को नहीं मिली 'पोस्टल बैलेट' की सुविधा, जाएंगे मुंबई

पार्टी कार्यकर्ता उनको बुलाकर खुश होता है और कार्यकर्ता की खुशी में मुझे भी खुशी मिलती है. कश्मीर पर गुलाम नबी आजाद और सैफुद्दीन सोज़ के बयान पर उन्होंने कहा कि कश्मीर एक राष्ट्रीय समस्या है और इस पर राष्ट्रीय नेतृत्व की कुछ कह सकता है, मेरा टिप्पणी करना उचित नहीं है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर