अपना शहर चुनें

States

बदायूं में वेतन भुगतान की मांग को लेकर हड़ताल पर चीनी मिलकर्मी

उत्तर प्रदेश के बदायूं में वेतन भुगतान की मांग को लेकर चीनी मिलकर्मी धरना प्रदर्शन कर रहे हैं । तो वहीं चीनी मिल कर्मियों के हड़ताल पर चले जाने से किसानों को लाखों रुपयों का गन्ना मिल के  गेट पर फंस गया है । ऐसे में जिला प्रशासन किसानों का साथ देते हुए मिल प्रशासन को गन्ना लेने के लिए आदेश दे दिए हैं ।
उत्तर प्रदेश के बदायूं में वेतन भुगतान की मांग को लेकर चीनी मिलकर्मी धरना प्रदर्शन कर रहे हैं । तो वहीं चीनी मिल कर्मियों के हड़ताल पर चले जाने से किसानों को लाखों रुपयों का गन्ना मिल के  गेट पर फंस गया है । ऐसे में जिला प्रशासन किसानों का साथ देते हुए मिल प्रशासन को गन्ना लेने के लिए आदेश दे दिए हैं ।

उत्तर प्रदेश के बदायूं में वेतन भुगतान की मांग को लेकर चीनी मिलकर्मी धरना प्रदर्शन कर रहे हैं । तो वहीं चीनी मिल कर्मियों के हड़ताल पर चले जाने से किसानों को लाखों रुपयों का गन्ना मिल के  गेट पर फंस गया है । ऐसे में जिला प्रशासन किसानों का साथ देते हुए मिल प्रशासन को गन्ना लेने के लिए आदेश दे दिए हैं ।

  • Share this:
उत्तर प्रदेश के बदायूं में वेतन भुगतान की मांग को लेकर चीनी मिलकर्मी धरना प्रदर्शन कर रहे हैं । तो वहीं चीनी मिल कर्मियों के हड़ताल पर चले जाने से किसानों को लाखों रुपयों का गन्ना मिल के  गेट पर फंस गया है । ऐसे में जिला प्रशासन किसानों का साथ देते हुए मिल प्रशासन को गन्ना लेने के लिए आदेश दे दिए हैं ।

बता दें कि बदायूं शेखपूरा सहकारी चीनी मिल में कर्मचारी पिछले पांच दिनों से वेतन की भुगतान को लेकर मिल परिसर में धरना दे रहे हैं । कर्मचारियों की मांग है कि पहले उनके वेतन का भुगतान किया जाए उसके बाद ही वे मिल शुरू करेंगे ।

मिल बंद होने से मिल गेट पर किसानों के सैकड़ों गन्ने पड़े हुए है, जिससे किसानों को डर है कि कहीं उनके सारे गन्ने मिल के गेट पर यूं ही पड़े-पड़े सड़ ना जाए । ऐसे में जिला प्रशासन ने किसानों का साथ देते हुए सारे गन्नों को मिल परिसर में रखवा रहा है



एडीएम अशोक कुमार श्रीवास्तव के मुताबिक जो भी कर्मचारी मिल को चलाने में सहयोग नहीं कर रहे हैं, उनके खिलाफ नोटिस जारी हो रही है ताकि उनपर सख्त कार्रवाई की जा सके । आगे एडीएम ने कहा कि साथ ही ऐसे तत्वों पर भी कार्रवाई की जाएगी जो बार-बार काम में अड़चनें पैदा कर रहे हैं ।
आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज