जो दल मंदिर को कल तक सांप्रदायिक मानते थे वो आज मंदिर जा रहे हैं: धर्मपाल सिंह

बीजेपी की तारीफ करते हुए कैबिनेट मंत्री ने कहा कि केंद्र में मोदी और यूपी में योगी सरकार अच्छा काम कर रही है जबकि सपा का अस्तित्व समाप्त हो रहा है और बसपा कोई अस्तित्व है ही नहीं, इसलिए गठबन्धन करना इनकी मजबूरी है

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 1, 2018, 11:12 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 1, 2018, 11:12 PM IST
सूबे की योगी सरकार में सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह ने शनिवार को आगामी चुनाव में सपा-बसपा गठबंधन पर जमकर हमला बोला है. सपा पर तंज करते हुए धर्मपाल सिंह ने कहा कि सपा के कुनबे की खात्मा आपस में ही लड़कर हो जाएगी. वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और अखिलेश यादव के मंदिर प्रेम पर चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा कि जो दल कल तक मंदिर को सांप्रदायिक मानते थे वो आज मंदिर-मंदिर घूम रहे हैं.

यह भी पढ़ें-यूपी में सपा-बसपा गठबंधन पर मुहर, बैठक में लिया बड़ा फैसला

उन्होंने शिवपाल के अलग पार्टी बनाने के सवाल पर कहा कि अखिलेश से नाराजगी तो उनके पिता मुलायम सिंह भी व्यक्त कर चुके है और सपा के कुनबे का खात्मा आपस में लड़कर ही हो जाएगी. वहीं, बीजेपी की तारीफ करते हुए कैबिनेट मंत्री ने कहा कि केंद्र में मोदी और यूपी में योगी सरकार अच्छा काम कर रही है जबकि सपा का अस्तित्व समाप्त हो रहा है और बसपा कोई अस्तित्व है ही नहीं, इसलिए गठबन्धन करना इनकी मजबूरी है, लेकिन परिवारवाद की राजनीति से जनता ऊब चुकी है.

यह भी पढ़ें-बदायूं: खर्चा नहीं उठा सका तो भाई ने 3 बहनों को मार दी गोली, 1 की मौत

उन्होंने कहा कि बीजेपी सैद्धांतिक राजनीति करती है इसलिए 2019 लोकसभा चुनाव के बाद देश के अगले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही बनेंगे. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में बीजेपी 75 सीटों पर जीत हासिल करेगी. वहीं, राम मंदिर के सवाल पर मंत्री ने कहा कि मंदिर बीजेपी का राजनैतिक मुद्दा नहीं, बल्कि आस्था का सवाल है, अयोध्या में राम मंदिर अवश्य बनेगा.

यह भी पढ़ें-बदायूं में दबोचे गए बैटरी चोर, गांव वालों ने कराया सार्वजनिक मुंडन

वहीं, बदायूं की सोत नदी पर अवैध कब्जे के सवाल पर मंत्री ने कहा कि इस मामले में जांच कमेटी बनाई गई है और नदी पर से जल्द ही अवैध कब्जे का हटाया जाएगा. प्रदेश में बाढ़ के सवाल पर उन्होंने कहा कि प्रदेश में 40 जिले बाढ़ प्रभावित हैं. योगी सरकार बाढ़ को लेकर चिंतित है और सभी जिलाधिकारियों को बाढ़ से बचाव को निर्देशित कर दिया गया है। सरकार ने बाढ़ से निपटने के लिए 385 करोड़ रुपए का आवंटन कर दिया है ताकि जन-धन हानि न हो सके.

(रिपोर्ट- चितरंजन सिंह, बदायूं)

10वीं पास ले सकते हैं गैस सिलेंडर की एजेंसी, ये है अप्लाई करने का तरीका

भूलकर भी ना करें जिम में 10 एक्सरसाइज, लाइफ टाइम के लिए खराब हो सकती है बॉडी..!

 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर