मुन्ना बजरंगी हत्याकांड: जांच में दोषी पाए गए बागपत जेल के जेलर बर्खास्त

राज्य के प्रमुख सचिव (गृह विभाग) ने जांच में बागपत जेल के जेलर रहे उदय प्रताप सिंह को दोषी पाया जिसके बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने बर्खास्त कर दिया.

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 21, 2019, 3:10 PM IST
मुन्ना बजरंगी हत्याकांड: जांच में दोषी पाए गए बागपत जेल के जेलर बर्खास्त
मुन्ना बजरंगी हत्याकांड में दोषी पाए गए जेलर को सरकार ने बर्खास्त कर दिया है. (फाइल फोटो)
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 21, 2019, 3:10 PM IST
कुख्यात माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या के समय बागपत जेल के जेलर रहे उदय प्रताप सिंह को दोषी पाए जाने के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने उन्हें बर्खास्त कर दिया है. राज्य के प्रमुख सचिव (गृह विभाग) ने जांच के बाद यह फैसला लिया है.

मुन्ना बजरंगी की 9 जुलाई, 2018 को बागपत जेल में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.

बता दें कि मुन्‍ना बजरंगी की पूर्व बसपा विधायक लोकेश दीक्षित से रंगदारी मांगने के आरोप में बागपत कोर्ट में पेशी होनी थी. उसे झांसी से बागपत लाया गया था. पेशी से पहले ही जेल के अंदर उसे गोली मार दी गई थी. मामले में 7 लाख का इनामी बदमाश सुपारी किलर रह चुका सुनील राठी को मुन्ना बजरंगी की हत्या में आरोपी बनाया गया है. उस वक्त सुनील राठी भी बागपत जेल में बंद था.

मुन्ना बजरंगी पर 40 हत्याओं, लूट, रंगदारी की घटनाओं में शामिल होने का केस दर्ज थे.

एक समय यूपी पुलिस के लिए सिरदर्द बना हुआ था मुन्ना बजरंगी
मुन्ना बजरंगी किसी समय समूचे उत्तर प्रदेश पुलिस और एसटीएफ के लिए सिरदर्द बना हुआ था. वो सिंडिकेट तरीके से राजधानी लखनऊ, कानपुर और मुंबई में क्राइम करता था. उस पर सरकारी ठेकेदारों से रंगदारी और हफ्ता वसूलने का भी आरोप था.

इस मामले में मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने जेल के अंदर हत्या करने का आरोप लगाया था.
Loading...

जौनपुर का रहने वाला था प्रेम प्रकाश सिंह उर्फ मुन्ना बजरंगी
मुन्ना बजरंगी का असली नाम प्रेम प्रकाश सिंह था. उसका जन्म 1967 में यूपी के जौनपुर जिले के पूरेदयाल गांव में हुआ था. उसके पिता पारसनाथ सिंह उसे पढ़ा-लिखाकर बड़ा आदमी बनाने का सपना संजोए थे. मगर प्रेम प्रकाश उर्फ मुन्ना बजरंगी ने उनके अरमानों को कुचल दिया और अपराध का रास्ता चुन लिया. मुन्ना बजरंगी ने पांचवीं कक्षा के बाद पढ़ाई छोड़ दी. किशोर अवस्था तक आते-आते उसे कई ऐसे शौक लग गए, जो उसे जुर्म की दुनिया में ले जाने के लिए काफी थे.

ये भी पढ़ें-

निरहुआ ने बताया अखिलेश की सपा क्यों हारी लोकसभा चुनाव?

आशिक ने मां के सामने प्रेमिका को गोली मार कर किया यह काम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बागपत से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 21, 2019, 2:46 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...