पुलिस और लुटरों के बीच मुठभेड़, 4 बदमाश के साथ दो दारोगा भी घायल

पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़

पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़

सीओ सदर और इंस्पेक्टर बुलेट प्रूफ जैकेट की वजह से बाल-बाल बच गए, क्योंकि गोली जैकेट में फंस गई.

  • Share this:
उत्तर प्रदेश के बागपत में पुलिस और ट्रक लुटेरों के बीच मुठभेड़ हुई है. इस घटना में दोनों ओर से हुई फायरिंग में 4 बदमशों को गोली लगी है. साथ ही दो दारोगा भी गोली लगने से घायल हो गए हैं. सीओ सदर और इंस्पेक्टर बुलेट प्रूफ जैकेट की वजह से बाल बाल-बच गए, क्योंकि गोली जैकेट में फंस गई. वहीं, बदमाशों का एक साथी अंधेरे का फायदा उठाकर फ़रार हो गया. मुठभेड़ में घायल सभी बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया गया है. घायल चारो बदमाशों और दोनों सब इंस्पेक्टर को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां सभी इलाज चल रहा है.



बागपत पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी

दरअसल, कोतवाली बागपत पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि ट्रक लूट करने वाला एक गिरोह काठा गांव के पास लूट की वारदात को अंजाम देने जा रहा है. इसके बाद कोतवाली पुलिस और स्वाट टीम ने मिलकर हाइवे पर गस्त की तो पुलिस का सामना बदमाशों से हो गया. पुलिस को एक बिना नम्बर की कार आती दिखाई दी, जिसे पुलिस ने रोकने का इशारा किया. लेकिन बदमाशों ने गाड़ी जंगल की और दौड़ा दी और भागने लगे इसके बाद पुलिस ने सर्च किया तो बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी.



ऐसे में पुलिस की ओर से भी जवाबी फायरिंग की गई
ऐसे में पुलिस की ओर से भी जवाबी फायरिंग की गई. दोनों और से हुई कई राउंड फायरिंग के दौरान 4 बदमाशों नईम, नजाकत, शकील और मोसिन के पैरों में गोली लगी. जबकि उनका एक साथी अंधेरे का फायदा उठाकर फ़रार हो गया. वहीं, इस दौरान दो सब इंस्पेक्टर हेमेंद्र बालियान व गजेंद्र सिंह भी बदमाशों की गोली से घायल हो गए. जबकि सीओ सदर ओमपाल सिंह व इंस्पेक्टर उमेश रोरिया बुलेट प्रूफ जैकेट में गोली फंसने के कारण बाल -बाल बच गए. पुलिस ने चारों बदमाशो को गिरफ्तार कर लिया है. ये गिरोह यूपी-एनसीआर इलाके में सक्रिय था और हाइवे पर ट्रक लूट की वारदातों को अंजाम देता था.





रिपोर्ट- शहजाद



ये भी पढ़ें- 



मिश्रा को सलामी के वक्‍त इसलिए फुस्‍स हो गई थीं बंदूकें?



बाढ़ पहुंचते ही लगे छोटे सरकार और अनंत सिंह जिंदाबाद के नारे
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज