लाइव टीवी

गड़बड़ी करने वाले नर्सिंग होम्स के खिलाफ सरकार सख्त हैः सहकारिता मंत्री

ETV UP/Uttarakhand
Updated: November 13, 2017, 9:14 AM IST

सूबे के स्वास्थ्य विभाग में लापरवाही के चलते हो रही मौतों और नर्सिग होम्स में मरीजों के साथ हो रही बदसलूकी पर चिंता जाहिर करते हुए प्रदेश के सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा ने कहा है कि योगी सरकार कानून व्यवस्था के मामले में बेहद सख्त है और नर्सिंग होम में गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है.

  • Share this:
सूबे के स्वास्थ्य विभाग में लापरवाही के चलते हो रही मौतों और नर्सिग होम में मरीजों के साथ हो रही बदसलूकी पर चिंता जाहिर करते हुए प्रदेश के सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा ने कहा है कि योगी सरकार कानून व्यवस्था के मामले में बेहद सख्त है और नर्सिंग होम में गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है.

यूपी नर्सिंग होम एसोसिएशन द्वारा रविवार को आयोजित एक कार्यशाला में मुख्य अतिथि रहे सहकारिता मंत्री ने एसोसिएशन के लोगों को आश्वासन दिया कि उनकी समस्याओं के निदान के लिए रिपोर्ट स्वास्थ्य मंत्री और सीएम योगी आदित्यनाथ के समक्ष रखी जाएगी.

उक्त अवसर पर एसोसिएसन के प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि प्रदेश के 70 प्रतिशत मरीजों का इलाज नर्सिंग होम्स द्वारा किया जाता है उसके अतिरिक्त सरकार की योजनाओं में भी बढ़-चढ़कर सरकार के लिए काम किया जाता है बावजूद इसके लाइसेंस के नाम पर उन्हें प्रताड़ित किया जाता है और विभिन्न विभागों द्वारा बार-बार दौड़ाया जाता है.

एसोसिएसन के अध्यक्ष ने नर्सिंग होम्स के रजिस्ट्रेशन पांच साल में किए जाने की मांग की है और रजिस्ट्रेशन के लिए ऑनलाइन वन विंडो सिस्टम डेवलेप करने की डिमांड की है. साथ ही, उन्होंने नर्सिंग होम्स की सुरक्षा पर सवाल उठाए. बेसिक शिक्षा मंत्री अनुपमा जायसवाल ने एसोसिएसन को आश्वस्त करते हुए बताया कि सरकार हर विभाग में ऑनलाइन सिस्टम लागू कर रही है और जल्द ही रजिस्ट्रेशन भी ऑनलाइन करने की प्रक्रिया शुरू करेगी.

बालेजर रिसार्ट में आयोजित यूपी नर्सिंग होम एसोसिएशन की कार्यशाला में मुख्य अतिथि रहे सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा ने दीप प्रज्जवित करके कार्यक्रम का शुभारंभ किया. कार्यक्रम में बाल विकास और बाल कल्याण राज्यमंत्री अनुपमा जायसवाल भी कार्यक्रम में मौजूद थीं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बहराइच से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 13, 2017, 9:10 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर