लाइव टीवी

बहराइचः बच्चे की जान बचाने के लिए तेंदुए से भिड़ गया पिता
Bahraich News in Hindi

ETV UP/Uttarakhand
Updated: December 15, 2017, 11:05 AM IST

थाना रामगांव क्षेत्र के रेहवा मंसूर सरयूपुरवा समेत करीब आधा दर्जन गांव तेंदुओं के आंतक से पीड़ित है और वर्ष 2016 में तेंदुए अब तक दर्जन इंसानों और मवेशियों को अपना शिकार बना चुके हैं. यही नहीं, तेंदुए के हमले में अब तक दो मासूमों की भी जान जा चुकी है, लेकिन वन विभाग तेंदुओं के बढ़ते हमलो से निपटने में अक्षम साबित हो रही है.

  • Share this:
बहराइच जिले में एक पिता ने अपने बच्चे की जान बचाने के लिए एक खूंखार तेंदुए से भिड़ गया. करीब 20 मिनट तक तेंदुए से लड़ते रहे पिता की जान ग्रामीणों द्वारा शोर मचाने पर बचाई जा सकी. घायल व्यक्ति को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है.

गौरतलब है थाना रामगांव क्षेत्र के रेहवा मंसूर सरयूपुरवा समेत करीब आधा दर्जन गांव तेंदुओं के आंतक से पीड़ित है और वर्ष 2016 में तेंदुए अब तक दर्जन इंसानों और मवेशियों को अपना शिकार बना चुके हैं. यही नहीं, तेंदुए के हमले में अब तक दो मासूमों की भी जान जा चुकी है, लेकिन वन विभाग तेंदुओं के बढ़ते हमलो से निपटने में अक्षम साबित हो रही है.

रिपोर्ट के मुताबिक गुरूवार रात को सरयू पुरवा निवासी कुनऊ के घर में घुसे तेंदुए ने खूंटे से बंधी बकरी पर हमला कर दिया. बकरी के बगल में सो रहे बच्चे पर हमले की आशंका में बच्चे की मां ने शोर मचा दिया. बच्चे की जान खतरे में देख पिता तेंदुए से भिड़ गया और जब तक होश रहा तब उससे लड़ता रहा और जब शोर सुनकर गांव के लोग मौके पर पहुंचे तब तेंदुए से उसकी जान बचाई जा सकी.

ग्रामीणों ने घटना की सूचना तत्काल डायल 100 और वन विभाग तक पहुंचा दी थी, लेकिन रात में कोई भी घटनास्थल पर नहीं पहुंचा. सुबह पहुंचे क्षेत्रीय रेंज अधिकारी ने बताया कि घटना की सूचना आला अफसरों को भेजी जा चुकी है और स्वीकृति आने के बाद घायल व्यक्ति को आहेतुक सहायता दी जाएगी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बहराइच से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 15, 2017, 11:05 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर