Home /News /uttar-pradesh /

majhra beat tigress imprisoned in cage of katarniaghat had made five people prey nodelsp

बहराइच: नरभक्षी बाघिन की दहशत खत्म, पांच लोगों के शिकार के बाद पिंजड़े में हुई कैद

मादा बाघिन को वन विभाग ने पिंजड़े में कैद करने में सफलता पाई है.

मादा बाघिन को वन विभाग ने पिंजड़े में कैद करने में सफलता पाई है.

Tigress imprisoned in cage: बहराइच में कतर्नियाघाट के मझरा बीट में पिछले कुछ दिनों से दहशत का पर्याय बनी नरभक्षी मादा बाघिन को वन विभाग ने कैद करने में सफलता पाई है. बाघिन को पिंजड़े में कैद कर लिया गया. यह बाघिन पांच लोगों को शिकार बना चुकी थी जिसको लेकर पूरे इलाके में दहशत का माहौल था. इसके पहले एक बाघ को भी पिंजड़े में कैद किया गया गया था.

अधिक पढ़ें ...

बहराइच. जनपद बहराइच में कतर्नियाघाट के मझरा बीट में पिछले कुछ दिनों से आतंक का पर्याय बनी नरभक्षी मादा बाघिन को वन विभाग ने कैद करने में सफलता पाई है. बाघिन को पकड़ने के लिए विशेष टीम ने घेराबंदी कर रखी थी. कई जगह पिंजड़े लगाए गए और मादा बाघिन पिंजड़े में कैद हो गई. यह बाघिन पांच लोगों को शिकार बना चुकी थी, जिसको लेकर पूरे इलाके में दहशत का माहौल था.

जानकारी के मुताबिक मझरा बीट में इस बाघिन ने अपना आतंक मचा रखा था. पिछले चंद दिनों में इस बाघिन ने 5 लोगों को अपना शिकार बना लिया था, जिसके बाद आसपास के गांव में दहशत थी. वन विभाग ने इन घटनाओं के बाद टाइगरों की गतिविधियों को समझने के लिए घटनास्थल क्षेत्र में तीन दर्जन ट्रैप कैमरे भी लगाए थे. इन कैमरों से वन विभाग ने दो टाइगरों को चिन्हित किया था. पिजड़ा लगाने के दो दिन बाद वन विभाग के पिजड़े में एक नर टाइगर कैद हुआ था. उसके बाद गुरुवार को मादा बाघिन भी पिजड़े में कैद हुई है.

9 साल की बाघिन ही कर रही थी शिकार
वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि मझरा क्षेत्र में हो रही घटनाओं की वजह से वन विभाग लगातार एक्टिव था, लेकिन आज सफलता मिली है. दुधवा टाइगर रिजर्व के फील्ड डायरेक्टर डा. संजय पाठक ने बताया कि बाघिन की उम्र 9 वर्ष है. उन्होंने विश्वस्त होकर बताया कि जो भी घटनाएं इस क्षेत्र में हो रही थीं इसी बाघिन द्वारा की जा रही थीं, क्योंकि इस बाघिन की कैनाइन नहीं है और इसके दांत भी घिसे हैं. इसी को देखते हुए पूर्णतया लग रहा है कि इसी बाघिन द्वारा लोगों को शिकार बनाया जा रहा था.

स्वास्थ्य परीक्षण के बाद चिड़ियाघर भेजी जाएगी बाघिन
दुधवा टाइगर रिजर्व के फील्ड डायरेक्टर डा. पाठक ने बताया कि बाघिन का स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाएगा उसके बाद उसे चिड़िया घर भेजा जाएगा. पाठक ने कहा कि घटनास्थल वाली जगहों पर जो ट्रैप कैमरे लगे हैं अभी लगे रहेंगे और लगातार वनकर्मियों द्वारा आगे भी निगरानी की जाएगी.

Tags: Bahraich news, Dudhwa Tiger Reserve, Tigress, UP news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर