नवजात शिशु की मौत, परिजनों ने लगाया लापरवाही का आरोप

यूपी के बहराइच जिला महिला अस्‍पताल में नवजात शिशु की मौत,परिजनों का आरोप बच्‍चे को जरूरत पर ऑक्‍सीजन सिलेंडर नहीं मिलने से हुई मौत.वहीं डॉक्‍टरों नेे आरोपों को किया खारिज.


Updated: June 2, 2018, 11:09 AM IST

Updated: June 2, 2018, 11:09 AM IST
यूपी के बहराइच जिला महिला अस्‍पताल में एक नवजात शिशु की मौत हो गई है.परिजनों ने शिशु की मौत के लिए डॉक्‍टरों को जिम्‍मेदार ठहराया है.वहीं जिला अस्‍पताल प्रशासन ने इन सभी आरोपों काे निराधार बताया है.

थाना पयागपुर क्षेत्र के कोट बाजार निवासी राघव प्रसाद ने गुरुवार को अपनी पत्नी सीता देवी को प्रसव के लिए जिला महिला अस्पताल में भर्ती कराया था.शुक्रवार की सुबह 3:00 बजे सीतादेवी ने एक लड़के को जन्म दिया लेकिन देर शाम शिशु की हालत अचानक से बिगड़ने लगी तो डॉक्‍टरों ने उसे ऑक्‍सीजन लगाया.

कुछ देर बाद ऑक्‍सीजन सिलेंडर खत्‍म हो गया, जिसे बदलने के लिए दूसरा सिलेंडर लाया गया. लेकिन परिजनों का आरोप है कि स्‍टाफ की ओर से दूसरा सिलेंडर लाने में काफी देरी की गई,जिसकी वजह से उनके बच्‍चे की मौत हो गई.

शिशु के पिता राघव प्रसाद ने आरोप लगाया कि दूसरा सिलेंडर लाया गया,जिसे अप्रशिक्षित कर्मी द्वारा लगाने का प्रयास किया गया,जिसे लगाने में काफी मशक्कत के बाद भी देर हो गई.इस वजह से उनके नवजात शिशु की मौत हो गई.

इस बाबत जब प्रभारी सीएमएस  डॉक्टर राबिया से बात की गई तो उन्‍होंने परिजनों के आरोपों को निराधार बताया.डॉक्‍टर ने कहा की जिला महिला अस्पताल में गैस सिलेंडरों की कोई कमी नहीं है. उन्होंने बताया नवजात शिशु 7 माह में जन्मा था,जिसके चलते उसकी मौत हो गई.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर