लाइव टीवी

PM नरेंद्र मोदी के प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्र के बेटे को श्रावस्ती से मिल सकता है टिकट

News18 Uttar Pradesh
Updated: March 14, 2019, 11:35 AM IST
PM नरेंद्र मोदी के प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्र के बेटे को श्रावस्ती से मिल सकता है टिकट
आईआईएम ग्रेजुएट हैं साकेत

बता दें पूर्व आईपीएस अधिकारी और जर्मनी के डच बैंक में उच्च पर काम कर चुके साकेत के नाना पंडित बदलूराम शुक्ल बहराइच से 1971 में कांग्रेस सासंद रह चुके हैं.

  • Share this:
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्र के पुत्र साकेत अब राजनीति में हाथ आजमाएंगे. उन्हें लोकसभा की श्रावस्ती सीट से बीजेपी का टिकट मिलना तय माना जा रहा है. श्रावस्ती से इस समय दद्दन मिश्र बीजेपी सांसद है.उनका टिकट कट सकता है या फिर कहीं और से चुनाव लड़ाया जा सकता है.

बता दें पूर्व आईपीएस अधिकारी और जर्मनी के डच बैंक में उच्च पदों पर काम कर चुके साकेत के नाना पंडित बदलूराम शुक्ल बहराइच से 1971 में कांग्रेस सासंद रह चुके हैं. तब श्रावस्ती बहराइच लोकसभा सीट के अंतर्गत आती थी. डच बैंक की नौकरी छोड़कर स्वदेश लौटे साकेत आठ महीने से श्रावस्ती जिले में सक्रिय हैं. वह न सिर्फ बीजेपी के कार्यक्रमों में सक्रिय हैं बल्कि लोगों के सुख-दुख में भी शामिल हो रहे हैं.

साकेत कहना है कि वह अब अपने गांव की माती का कर्ज उतारना चाहते हैं इसलिए राजनीति में आ रहे हैं. माना जा रहा है कि उनके नाना का जिले में खासा प्रभाव रहा है. इसका फायदा उन्हें मिल सकता है.

आईआईएम ग्रेजुएट साकेत ने 1994 में सिविल सर्विसेज की परीक्षा पास की थी, लेकिन नौकरी करने का मन नहीं हुआ तो वे जर्मनी के डच बैंक में नौकरी कर ली. वे वहां 16 वर्षों से उच्च पदों पर रहे. अब वे राजनीति में भाग्य आजमाना चाहते हैं.

ये भी पढ़ें-

...तो PM मोदी के खिलाफ कांग्रेस के समर्थन से मैदान में होंगे भीम आर्मी के चंद्रशेखर?

लोकसभा चुनाव 2019: PM मोदी के खिलाफ खुद ताल ठोकेंगे भीम आर्मी के चंद्रशेखर!
Loading...

..तो इस वजह से कांग्रेस पर इतनी हमलावर हैं बसपा सुप्रीमो मायावती

धोखाधड़ी मामला: हाईकोर्ट ने निरस्त किया सांसद साक्षी महाराज का वारंट

अखिलेश के ‘मुलायम’ कदम से मैनपुरी में शुरू हुई सियासी तनातनी, तेज प्रताप पर टिकीं नजरें

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बहराइच से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 14, 2019, 9:46 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...