Home /News /uttar-pradesh /

UP Election 2022: जब समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने ही जलाया सपा का झंडा, जानें क्या थी वजह

UP Election 2022: जब समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने ही जलाया सपा का झंडा, जानें क्या थी वजह

यूपी के बहराइच में टिकट बंटवारे से नाराज सपा कार्यकर्ताओं ने सपा का झंडा जलाया.

यूपी के बहराइच में टिकट बंटवारे से नाराज सपा कार्यकर्ताओं ने सपा का झंडा जलाया.

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh News) में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता सपा का ही झंडा जला रहे हैं. बहराइच जिले के महसी विधानसभा से सपा ने बसपा से आए पूर्व विधायक को प्रत्याशी बनाया है. इससे सपा के टिकट पर चुनाव लड़ चुके डॉक्टर राजेश तिवारी के समर्थक नाराज हो गए. सभी ने शुक्रवार को अखिलेश यादव, जिलाध्यक्ष और कैबिनेट मंत्री का पुतला जलाते हुए मुर्दाबाद के नारे लगाए. सपा का झंडा भी खूब जलाया.

अधिक पढ़ें ...

बहराइच: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh News) में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता सपा का ही झंडा जला रहे हैं. बहराइच जिले के महसी विधानसभा से सपा ने बसपा से आए पूर्व विधायक को प्रत्याशी बनाया है. इससे सपा के टिकट पर चुनाव लड़ चुके डॉक्टर राजेश तिवारी के समर्थक नाराज हो गए. सभी ने शुक्रवार को अखिलेश यादव, जिलाध्यक्ष और कैबिनेट मंत्री का पुतला जलाते हुए मुर्दाबाद के नारे लगाए. सपा का झंडा भी खूब जलाया.

दरअसल, बहराइच जिले के नेवादा गांव निवासी डॉक्टर राजेश तिवारी सपा के पुराने कार्यकर्ता हैं. सपा के टिकट पर राजेश तिवारी ने वर्ष 2012 और वर्ष 2017 का विधान सभा चुनाव लड़ा था. इस बार भी वह टिकट के दावेदारों में थे, लेकिन इस बार विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी ने दलबदलू को टिकट दे दिया है. इससे राजेश तिवारी और उनके समर्थक काफी नाराज हो गए.

गुरुवार शाम को राजेश तिवारी के भाई ज्ञानेंद्र तिवारी ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया. वहीं, शुक्रवार सुबह काफी संख्या में समर्थक राजेश तिवारी के आवास पहुंचे और सभी ने महसी विधानसभा से कृष्ण कुमार ओझा को टिकट मिलने पर नाराजगी जताई. वहीं, सैकड़ों समर्थकों के साथ राजेश तिवारी के भाई ने अखिलेश यादव का पुतला और बैनर जलाते हुए मुर्दाबाद के नारे लगाए.

इसके साथ ही सभी ने बहराइच के सपा जिलाध्यक्ष, पूर्व कैबिनेट मंत्री और सदर विधानसभा के प्रत्याशी यासर शाह का सभी ने पुतला जलाया. साथ ही जिलाध्यक्ष, अखिलेश यादव और यासर शाह मुर्दाबाद के नारे लगाए. समर्थक टिकट कटने से इतना नाराज दिखे कि सभी ने सपा प्रत्याशी को हराने तक का संकल्प लिया है. समर्थकों में मायूसी के साथ नाराजगी साफ दिख रही है.

समाजवादी पार्टी ने इस बार बसपा से आए कृष्ण कुमार ओझा को पार्टी का टिकट महसी विधानसभा से दिया है. पूर्व में केके ओझा महसी और फखरपुर विधानसभा से बसपा के टिकट पर चुनाव जीत चुके हैं. महसी विधानसभा से केके ओझा का टिकट फाइनल होते ही राजेश तिवारी नाराज हो गए. प्रेस वार्ता कर उन्होंने सपा को दलालों की पार्टी कहा. राजेश ने कहा कि सपा जिलाध्यक्ष और यासर शाह ने रुपये लेकर टिकट दिया है.

Tags: Assembly elections, Bahraich news, Uttar Pradesh Assembly Elections, ​​Uttar Pradesh News

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर