अगर 'व्हाट्स ऐप' पर सभी मैसेज फॉरवर्ड कर देते हैं, तो हो जाएं सावधान

व्हाट्स ऐप यूजर इस खबर को ध्‍यान से पढ़े, क्‍योंकि इसके इस्‍तेमाल में लापरवाही से आप भी लखनऊ के चंद्रशेखर की तरह मुश्‍किल में फंस सकते हैं। चंद्रशेखर ने व्हाट्स ऐप पर आए एक कार्टून की इमेज को बिना ध्‍यान डाले, उसे दूसरे को फॉरवर्ड कर दिया। इस लापरवाही के चलते उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

News18
Updated: January 18, 2015, 7:26 AM IST
अगर 'व्हाट्स ऐप' पर सभी मैसेज फॉरवर्ड कर देते हैं, तो हो जाएं सावधान
व्हाट्स ऐप यूजर इस खबर को ध्‍यान से पढ़े, क्‍योंकि इसके इस्‍तेमाल में लापरवाही से आप भी लखनऊ के चंद्रशेखर की तरह मुश्‍किल में फंस सकते हैं। चंद्रशेखर ने व्हाट्स ऐप पर आए एक कार्टून की इमेज को बिना ध्‍यान डाले, उसे दूसरे को फॉरवर्ड कर दिया। इस लापरवाही के चलते उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।
News18
Updated: January 18, 2015, 7:26 AM IST
व्हाट्स ऐप यूजर इस खबर को ध्‍यान से पढ़े, क्‍योंकि इसके इस्‍तेमाल में लापरवाही से आप भी लखनऊ के चंद्रशेखर की तरह मुश्‍किल में फंस सकते हैं। चंद्रशेखर ने व्हाट्स ऐप पर आए एक कार्टून की इमेज को बिना ध्‍यान डाले, उसे दूसरे को फॉरवर्ड कर दिया। इस लापरवाही के चलते उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

पुलिस के मुताबिक लखनऊ के अलीगंज में रहने वाले चंद्रशेखर को पिछले दिनों व्हाट्स ऐप पर एक कार्टून आया था। चंद्रशेखर ने इस कार्टून को गौर से देखे बिना व्हाट्स ऐप से ही शफाक अली को फॉरवर्ड कर दिया।

बहराइच के बड़ीहाट के रहने वाले शफाक अली को कार्टून की यह तस्‍वीर आपत्तिजनक लगी। उसने तुरंत स्‍थानीय कोतवाली में इसकी तहरीर दे दी, जिसपर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया।

पुलिस ने चंद्रशेखर के खिलाफ धार्मिक उन्माद फैलाने और आपत्तिजनक प्रदर्शन का केस दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी है।

सीओ सिटी डीपी तिवारी ने बताया कि जांच में पता चला है कि आरोपी चंद्रशेखर लखनऊ के अलीगंज में लोक सेवा आयोग कार्यालय के पीछे रह रहा है। उसकी गिरफ्तारी के भी प्रयास किए जा रहे हैं।

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...