Home /News /uttar-pradesh /

शाहजहांपुर: चालक को थी नींद की चिंता, ट्रेन चलाने से किया मना, ढाई घंटे इंतजार करते रहे यात्री

शाहजहांपुर: चालक को थी नींद की चिंता, ट्रेन चलाने से किया मना, ढाई घंटे इंतजार करते रहे यात्री

बालामऊ पैसेंजर ट्रेन (Balamau Passenger Train) के ड्राइवर ने नींद न पूरी होने के कारण ट्रेन चलाने से मना कर दिया. (प्रतीकात्मक)

बालामऊ पैसेंजर ट्रेन (Balamau Passenger Train) के ड्राइवर ने नींद न पूरी होने के कारण ट्रेन चलाने से मना कर दिया. (प्रतीकात्मक)

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर रेलवे स्टेशन (Shahjahanpur Railway Station) पर शुक्रवार सुबह एक अजब ही नजारा देखने को मिला. यहां बालामऊ पैसेंजर ट्रेन (Balamau Passenger Train) के ड्राइवर ने नींद न पूरी होने के कारण ट्रेन चलाने से मना कर दिया. इसकी वजह से यह ट्रेन करीब ढाई घंटे स्टेशन पर ही खड़ी रही और यात्रियों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा.

अधिक पढ़ें ...

शाहजहां. उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर रेलवे स्टेशन (Shahjahanpur Railway Station) पर शुक्रवार सुबह एक अजब ही नजारा देखने को मिला. यहां बालामऊ पैसेंजर ट्रेन (Balamau Passenger Train) के ड्राइवर ने नींद न पूरी होने के कारण ट्रेन चलाने से मना कर दिया. इसकी वजह से यह ट्रेन करीब ढाई घंटे स्टेशन पर ही खड़ी रही और यात्रियों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा.

दरअसल बालामऊ पैसेंजर गुरुवार को साढ़े तीन घंटे देरी से रात करीब एक बजे शाहजहांपुर रेलवे स्टेशन पहुंची. बालामऊ से जो ड्राइवर ट्रेन लेकर आया था, उसे ही सुबह यह ट्रेन बालामऊ लेकर जानी थी. हालांकि रात को इतनी देर से आने के कारण चालक की नींद पूरी नहीं हुई तो उसने शुक्रवार सुबह ट्रेन ले जाने से मना कर दिया. उसने कहा कि जब उसकी नींद पूरी हो जाएगी तब ही वह ट्रेन लेकर जाएगा.

ये भी पढ़ें- नोएडा का यह प्रत्याशी है सबसे अमीर, जानें किसके पास है कितनी संपत्ति

यह ट्रेन शाहजहांपुर से सुबह सात बजे रवाना होनी थी, लेकिन चालक के नींद पूरी करने के कारण 9:30 बजे तक ट्रेन शाहजहांपुर रेलवे स्टेशन पर ही खड़ी रही. जब चालक की नींद पूरी हुई तब वह ट्रेन चलाने आया और यहां से रोजा लेकर गया. रोजा से दूसरा चालक ट्रेन को बालामऊ के लिए लेकर गया.

ये भी पढ़ें- जब हस्तिनापुर की कांग्रेस प्रत्याशी बिकिनी गर्ल का दिखा साड़ी अवतार

शाहजहां के स्टेशन मास्टर जेपी सिंह ने बताया कि लोको पायलट बालामऊ से यह ट्रेन लेकर रोजा तक आते हैं. रोजा में रात्रि विश्राम के बाद सुबह यही लोको पायलट ट्रेन को वापस लेकर जाता है. रात्रि विश्राम पूरा न होने के कारण लोको पायलट ने सुबह ट्रेन ले जाने से मना कर दिया था, जब उसकी नींद पूरी हो गई तब वह ट्रेन लेकर गया.

Tags: Indian Railways, Shahjahanpur News, UP news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर