बलिया हत्याकांड: कड़ी सुरक्षा के बीच हुआ अंतिम संस्कार, सभी आरोपियों की गिरफ्तारी पर ईनाम घोषित

बलिया हत्याकांड में आरोपी धीरेंद्र सिंह अभी तक पकड़ा नहीं जा सका है.
बलिया हत्याकांड में आरोपी धीरेंद्र सिंह अभी तक पकड़ा नहीं जा सका है.

बलिया हत्याकांड: पोस्टमार्टम के बाद जय प्रकाश का शव दुर्जनपुर गांव लाया गया था. परिजनों में गम और मातम का माहौल है. पूरे दुर्जनपुर गांव में सन्नाटा पसरा दिखा, गांव के चप्पे-चप्पे पर पुलिस फोर्स (Police Force) तैनात है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 17, 2020, 6:45 AM IST
  • Share this:
बलिया. उत्तर प्रदेश के बलिया (Ballia) में कोटे के आवंटन को लेकर खुली पंचायत में अधेड़ की गोली मारकर हत्या (Shot Dead) मामले में मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह (Dheerendra Singh) सहित 6 नामजद आरोपी अभी भी फरार है. मामले में नामजद पुलिस ने 8 नामजद और 25 अज्ञात लोगों पर एफआईआर दर्ज की है. पुलिस की 10 टीमें लगातार आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास कर रही हैं. उधर शनिवार को मृतक जयप्रकाश का अंतिम संस्कार हो गया. कड़ी सुरक्षा के बीच मझवा घाट पर अंतिम संस्कार हुआ. पोस्टमार्टम के बाद शव दुर्जनपुर गांव लाया गया था. परिजनों में गम और मातम का माहौल है. पूरे दुर्जनपुर गांव में सन्नाटा पसरा दिखा, गांव के चप्पे-चप्पे पर पुलिस फोर्स तैनात है.

चौबीस घंटे में आएगा परिणाम: डीआईजी

डीआईजी आजमगढ़ के अनुसार सभी आरोपियों पर 75-75 हजार रुपये का ईनाम घोषित किया गया है. एनएसए, गुंडा एक्ट और गैंगेस्टर के तहत भी कार्रवाई होगी. आरोपियों की संपत्ति भी जब्त की जाएगी. किसी तरह का कोई दबाव बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. वे बलिया में ही कैंप करेंगे. 24 घंटे में परिणाम सामने आएगा.



दो नामजद गिरफ्तार
बता दें इस मामले में अभी त्तक 2 नामजद समेत 7 लोग गिरफ्तार हुए हैं. मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह के भाई देवेंद्र प्रताप सिंह को शुक्रवार सुबह ही गिरफ्तार कर लिया था. वहीं शाम को पुलिस ने दूसरे भाई नरेंद्र प्रताप सिंह को गिरफ्तार कर लिया. ये दोनों भी नामजद आरोपी हैं. अज्ञात के रूप में दर्ज पांच आरोपी हिरासत में हैं. इनके नाम का खुलासा नहीं किया गया है. छह अन्य नामजद व अज्ञात 20 आरोपी फरार हैं. देवेंद्र को रेवती रेलवे स्टेशन के पास से गिरफ्तार किया गया,
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज