लेनिन, पेरियार और अंबेडकर के बाद तोड़ी गई हनुमान की मूर्ति, चिपकाया विवादित पोस्टर

गांव के निवासी सुरेश सिंह के खेत में बिजली के करंट से एक बंदर की मौत हो गई थी. गांववालों ने खेत में ही बन्दर का अंतिम संस्कार करके हनुमानजी की प्रतिमा की स्थापना की थी.

भाषा
Updated: March 8, 2018, 5:56 PM IST
लेनिन, पेरियार और अंबेडकर के बाद तोड़ी गई हनुमान की मूर्ति, चिपकाया विवादित पोस्टर
Demo Pic
भाषा
Updated: March 8, 2018, 5:56 PM IST
देशभर में प्रमुख हस्तियों की प्रतिमाओं के साथ तोड़फोड़ करने की घटनाओं के बीच उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में कुछ शरारती तत्वों ने भगवान हनुमान की एक प्रतिमा को तोड़ दिया. पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

मिली जानकारी के मुताबिक, घटना बलिया के खरूआव गांव की है. जहां कुछ शरारती तत्वों ने भगवान हनुमान की एक प्रतिमा को नुकसान पहुंचाया. नगरा थाना के प्रभारी राम दिनेश तिवारी ने बताया कि खरूआव गांव में बुधवार को भगवान हनुमान की प्रतिमा शरारती तत्वों ने तोड़ दी. प्रतिमा पर एक विवादित पोस्टर भी चिपका हुआ मिला.



पुलिस ने इस मामले में ग्राम के प्रधान दुष्यंत सिंह की शिकायत पर अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. थाना प्रभारी ने बताया कि दो दशक पहले गांव के निवासी सुरेश सिंह के खेत में बिजली के करंट से एक बंदर की मौत हो गई थी. गांववालों ने खेत में ही बन्दर का अंतिम संस्कार करके हनुमानजी की प्रतिमा की स्थापना की थी.

उन्होंने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है. जल्द ही हनुमान की मूर्ती तोड़ने वालों का पता लगा लिया जाएगा.

ये भी पढ़ें:  VIDEO- बापू की मूर्ति तोड़ने से किसको फायदा?
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार