ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का किया दौरा, वितरित की राहत सामग्री

राहत सामग्री देने से पहले ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने राहत सामग्री के पैकेट को खुलवाकर चेक किया. बेहतर गुणवत्ता की सामग्री होने के बाद ही पीड़ितों में राहत सामग्री का पैकेट व 10 किलो आलू का वितरण किया.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 7, 2018, 12:39 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 7, 2018, 12:39 PM IST
अपने दो दिवसीय दौरे पर बलिया पहुंचे सूबे के ऊर्जा मंत्री व जिले के प्रभारी मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बैरिया तहसील क्षेत्र के सर्वाधिक बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया. उन्होंने गोपालनगर व वशिष्ठनगर के कुल 900 बाढ़ पीड़ित परिवारों में राहत सामग्री का वितरण किया.

इस दौरान उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिया कि एक भी बाढ़ पीड़ित राहत सामग्री से वंचित नहीं होना चाहिए. बिना भेदभाव के सबका सहयोग किया जाए. यही मुख्यमंत्री की मंशा है. उन्होंने पीड़ितों से पूछकर बाढ़ राहत एवं बाढ़ चौकी पर उपलब्ध सुविधाओं के बारे में सत्यापन भी किया.

राहत सामग्री देने से पहले ऊर्जा मंत्री ने राहत सामग्री के पैकेट को खुलवाकर चेक किया. बेहतर गुणवत्ता की सामग्री होने के बाद ही पीड़ितों में राहत सामग्री का पैकेट व 10 किलो आलू का वितरण किया. प्रशासनिक अधिकारियों को दो टूक संदेश दिया कि किसी भी बाढ़ पीड़ित को कोई तकलीफ नहीं होनी चाहिए.

ऊर्जा मंत्री ने कहा कि पूरी सरकार बाढ़ पीड़ितों की सेवा में लगी है. मुख्यमंत्री से लेकर मंत्री तक बाढ़ प्रभावित इलाकों में स्वयं जा रहे हैं. बिना भेदभाव के सभी पीड़ितों को राहत सामग्री उपलब्ध कराई जा रही है. उन्होंने ग्रामीणों से पूछा कि मिट्टी तेल का वितरण हुआ है या नहीं? कुछ लोगों द्वारा वितरण नहीं होने की शिकायत करने पर उन्होंने सप्लाई इंस्पेक्टर को तलब कर उनसे चेतावनी भरे शब्दों में कहा कि सभी पीड़ित परिवारों को तीन लीटर के हिसाब से शीघ्र मिट्टी तेल का वितरण किया जाए. इस आपदा की स्थिति में थोड़ी सी भी लापरवाही पर बड़ी कार्रवाई हो सकती है.

रिपोर्ट – अमित कुमार श्रीवास्तव

ये भी पढ़ें - 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर