बलिया: स्ट्रेचर नहीं दिया तो गोद में बीमार देवर को उठाकर दो मंजिल चढ़ गई भाभी

यही नहीं इसके पहले परिजन मरीज को जिला चिकित्सालय लाने के लिए 108 एम्बुलेन्स पर भी लगातार फोन करते रहे लेकिन एम्बुलेन्स नहीं पहुंची. सीएमएस डॉ बीपी सिंह कहा कि पूरे मामले में मैं अपनी गलती को स्वीकारता हूं. दोषियों की जांच कराकर उनके खिलाफ कारवाई की जाएगी.

amit kumar Srivastava | News18 Uttar Pradesh
Updated: May 24, 2018, 4:52 PM IST
बलिया: स्ट्रेचर नहीं दिया तो गोद में बीमार देवर को उठाकर दो मंजिल चढ़ गई भाभी
जिला अस्पताल में दूसरी मंजिल पर बीमार देवर को ले जाती भाभी. Photo: News 18
amit kumar Srivastava | News18 Uttar Pradesh
Updated: May 24, 2018, 4:52 PM IST
उत्तर प्रदेश की स्वास्थ्य व्यवस्था दुरस्त करने की सरकार भले ही तमाम दावे कर रही है लेकिन स्थितियां अभी भी विकट ही बनी हुई हैं. बलिया में अभी एक दिन पहले स्वास्थ्य कर्मियों की लापारवाही के चलते महिला मरीज ने दम तोड़ दिया था. इसी क्रम में गुरुवार को मानवता को शर्मसार करने वाली एक और तस्वीर बलिया के जिला चिकित्सालय में देखने को मिली. यहां उल्टी-दस्त से पीड़ित बीमार मरीज को वार्ड तक पहुंचाने के लिए स्वास्थ्य कर्मियों ने स्ट्रेचर नहीं दिया. आखिरकार मरीज की मजबूर भाभी अपने बीमार देवर को खुद अपने गोद में उठाकर दो मंजिल चढ़ी और वार्ड तक पहुंचाया.

यही नहीं इसके पहले परिजन मरीज को जिला चिकित्सालय लाने को 108 एम्बुलेन्स पर भी लगातार फोन करते रहे लेकिन एम्बुलेन्स नहीं पहुंची. आखिरकार मरीज की भाभी रानी अपने बूढ़े ससुर के साथ मरीज को लेकर टैम्पो से लादकर जिला चिकित्सालय पहुंची. यहां डाक्टर को दिखाने के बाद रानी ने देवर को दो मंजिले पर स्थित वार्ड मे ले जाने के लिए तैनात कर्मचारियों से स्ट्रेचर की मांग की. लेकिन कर्मचारियों ने उसकी एक ना सुनी और उसे स्ट्रेचर नहीं दिया. आखिरकार रानी ने बीमार देवर को अपनी गोद मे उठाया और जैसे-तैसे हांफते हुए दूसरी मंजिल पर स्थित वार्ड मे भर्ती किया.

चौंकाने वाली बात ये है कि पूरे घटनाक्रम के दौरान अस्पताल में पूरा चिकित्सकीय स्टाफ के साथ-साथ खुद मुख्य चिकित्सा अधीक्षक भी कैम्पस में मौजूद थे. लेकिन किसी ने स्ट्रेचर उपलब्ध करने के दिशा मे कोई पहल नहीं की. सीएमएस डॉ बीपी सिंह से जब इस संबंध में पूछा गया तो उन्होंने मामले पर अनभिज्ञता जताते हुये बताया कि आपके द्वारा मामले की जानकारी प्राप्त हुई है. इस पूरे मामले में मैं अपनी गलती को स्वीकारता हूं. दोषियों की जांच कराकर उनके खिलाफ कारवाई की जाएगी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बलिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 24, 2018, 4:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...