Home /News /uttar-pradesh /

breaking boat full of passengers drowned in yamuna on banda fatehpur border 20 people feared drowned nodsp

बड़ा हादसा: बांदा में 33 सवारियों से भरी नाव यमुना में पलटकर डूबी, 2 बच्चे, महिला समेत 4 की मौत

बांदा फतेहपुर सीमा पर यमुना नदी में 33 सवारियों से भरी नाव डूब गई.

बांदा फतेहपुर सीमा पर यमुना नदी में 33 सवारियों से भरी नाव डूब गई.

Banda Yamuna River Accident: यमुना नदी में नाव डूबने से बड़ा हादसा हुआ है. 20 से ज्यादा लोगों के बहने की खबर है. बांदा-फतेहपुर सीमा में मरका घाट के पास डूबी सवारियों से भरी नाव. बांदा और फतेहपुर पुलिस की टीमें रेस्क्यू में जुट गई हैं. नाव पर 33 से ज्यादा लोग सवार थे. थाना असोथर के राम नगर कौहन घाट के सामने नाव डूबी है. अब तक 4 डेड बॉडीज नदी से निकाली जा चुकी हैं. इसमें दो बच्चे और एक महिला शामिल हैं.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

यमुना नदी में नाव डूबने से बड़ा हादसा हुआ है. 20 से ज्यादा लोगों के डूबने की खबर है.
बांदा की सीमा में डूबी सवारियों से भरी नाव, 33 से ज्यादा लोग सवार थे.
अब तक दो बच्चे और एक महिला समेत 4 डेड बॉडीज नदी से निकाली जा चुकी हैं.

बांदा: उत्तर प्रदेश के बांदा के मरका घाट पर आज यानि रक्षाबंधन के दिन बड़ा हादसा हो गया, जब 33 सवारियों से भरी नाव यमुना नदी में डूब गई. इस हादसे में 20 से ज्यादा लोग तेज बहाव और लहरों में बह गए, जिसमें 4 लोगों की मौत हो गई है. वहीं, 16 लोगों को ढूंढने के लिए रेस्क्यू अभियान चलाया जा रहा है. हादसा बांदा फतेहपुर की सीमा में मरका घाट पर हुआ, जहां पर सवारियों से भरी नाव लहरों के बीच हिचकोले खाकर पलट गई, जिससे बड़ा हादसा हो गया.

थाना असोथर के राम नगर कौहन घाट के सामने नाव डूबी है. पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से 2 बच्चों, एक महिला समेत 4 लोगों के शव नदी से निकाले गए हैं. बाकी बचे 16 लोगों को बचाने के लिए रेस्क्यू जारी है. पुलिस और गोताखोरों की टीम उन्हें ढूढ़ रही है.

5 लोगों ने तैरकर बचाई अपनी जान
बताया जा रहा है कि यमुना नदी में तेज बहाव की वजह से नाव पलट गई, इसमें 33 से अधिक लोग सवार थे. 5 लोगों ने तैरकर अपनी जान बचाई. 20 लोगों की तलाश में पुलिस और गोताखोर की टीमें जुटी हुई हैं. नाव मरका घाट से फटेपुर जा रही थी. स्थानीय लोगों के मुताबिक, नाव पर 35 से 40 लोग सवार थे. हालांकि आधिकारिक रूप से बताया गया है कि 33 लोग नाव पर जा रहे थे.

बांदा के डीएम अनुराग पटेल ने बताया कि कोई भी एक पक्के तौर पर नही बता पा रहा है कि नाव में कितने लोग सवार थे. नाव तेज लहरों और बहाव की वजह से डूबी है. रेस्क्यू किया जा रहा है.

Breaking, Yamuna Accident, banda news, fatehpur news, Boat full of passengers, drowned in Yamuna, Banda-Fatehpur border, 20 people drowned, यमुना में डूबी नाव, बांदा फतेहपुर

गोताखोरों की मदद से रेस्क्यू अभियान चलाया जा रहा है.

बांदा में यमुना नदी में डूबी नाव…

  • 33 लोग सवार थे नाव में, 13 लोग नदी से सुरक्षित निकाले गए हैं. इसमें 4 लोगों की डेडबॉडीज भी हैं.
  • 4 लोगों की नदी में डूब कर मौत, 16 लापता लोगों की नदी में गोताखोर और एसडीआरएफ की टीम कर रही है तलाश.
  • DIG चित्रकूट धाम मंडल के साथ बांदा DM SP मौजूद. बांदा के मरका घाट से फतेपुर जा रहे थे नाव सवार.
  • बांदा के डीएम अनुराग पटेल ने बताया कि 13 लोगों को सुरक्षित बचाया गया है. तीन के शव निकाले गए हैं.
  • स्थानीय लोगों के मुताबिक, नाव पर 35 से 40 लोग सवार थे. हालांकि अधिकारियों ने बताया कि 30 लोग नाव पर जा रहे थे.
  • पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से 2 बच्चों और एक महिला का शव नदी निकाला.
  • रेस्क्यू जारी कुछ देर बाद पहुच रही SDRF की टीम.
  • गोताखोर और स्थानीय पुलिस की टीमें लगातार शवों की तलाश कर रही हैं.
  • मरका घाट पर हजारों की भीड़ जमा है और हर तरफ मातम पसरा है, महिलाएं और बच्चे बिलख रहे हैं.

इधर, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद बांदा में हुए नाव हादसे को लेकर जिला प्रशासन को राहत और बचाव कार्य करने के निर्देश दिए हैं. लोगों को नदी से निकालकर उनका समुचित उपचार कराया जाए. इसके साथ ही डूबने वाले मृतकों को 4-4 लाख रुपये की आर्थिक सहायता का ऐलान किया है.

Breaking, Yamuna Accident, banda news, fatehpur news, Boat full of passengers, drowned in Yamuna, Banda-Fatehpur border, 20 people drowned, यमुना में डूबी नाव, बांदा फतेहपुर

दो बच्चों और एक महिला की डेडबॉडी बाहर निकाली गई है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दिए राहत एवं बचाव कार्य के निर्देश
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद बांदा में यमुना नदी में हुए नाव हादसे को लेकर जिला प्रशासन को तत्काल मौके पर पहुंचकर बचाव और राहत कार्य करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने दुर्घटना में हुई जनहानि पर शोक व्यक्त करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है. मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारी, डीआईजी, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम को तत्काल मौके पर जाने के निर्देश दिए. मुख्यमंत्री जी ने हादसे में घायल हुए लोगों का समुचित उपचार कराए जाने के निर्देश दिए हैं.

Tags: Banda News, Banda police, Fatehpur News, UP news

अगली ख़बर