बांदा: नाबालिग लड़की से रेप के दोषी को 15 साल की सजा, 50 हजार का जुर्माना भी लगा

उन्होंने बताया,
उन्होंने बताया, "यह घटना 23 जून 2013 की शाम की है. (सांकेतिक फोटो)

सहायक शासकीय अधिवक्ता (एडीजीसी) रामसुफल सिंह (Ramsuphal Singh) ने मंगलवार को बताया, "अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश की अदालत ने दोनों पक्षों के अधिवक्ताओं की दलीलें सुनने के बाद दोषी छोटकवा उर्फ तीरथ चतुर्वेदी (30) को 15 वर्षीय किशोरी को नलकूप में बंधक बनाकर तमंचे के बल पर चार दिन तक उससे दुष्कर्म करने का दोषी पाया.

  • Share this:
बांदा. उत्तर प्रदेश के बांदा जिले (Banda District) की एक अदालत (Court) ने एक व्यक्ति को नाबालिग को बंधक बनाकर उसके साथ दुष्कर्म (Rape) करने के मामले में उसे दोषी करार (Guilty plea) दिया है. अदालत ने इस मामले में उसे  15 साल कैद और 50 हजार रुपये के जुर्माने की सजा सुनाई है. सहायक शासकीय अधिवक्ता (एडीजीसी) रामसुफल सिंह (Ramsuphal Singh) ने मंगलवार को बताया, "अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश की अदालत ने दोनों पक्षों के अधिवक्ताओं की दलीलें सुनने के बाद दोषी छोटकवा उर्फ तीरथ चतुर्वेदी (30) को 15 वर्षीय किशोरी को नलकूप में बंधक बनाकर तमंचे के बल पर चार दिन तक उससे दुष्कर्म करने का दोषी पाया. अदालत ने उसे 15 साल कैद और 50 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई."

उन्होंने बताया, "यह घटना 23 जून 2013 की शाम की है. किशोरी दोषी की आटा चक्की में गेहूं पिसवाने गयी थी, तभी वह उसे बंधक बनाकर अपने निजी नलकूप ले गया और तमंचे का भय दिखाकर उसके साथ चार दिन तक बलात्कार करता रहा." एडीजीसी ने बताया कि चौथे दिन किशोरी मौका पाकर दोषी का तमंचा-कारतूस लेकर वहां से भाग गयी और उसे (तमंचा-कारतूस) पुलिस को सौंपकर मामला दर्ज करवाया था. मामले में अभियोजन पक्ष की ओर से अदालत में आठ गवाह पेश किए गए थे.





पिता ने किया था रेप
बता दें कि बीते अगस्त महीने में भी बांदा की एक कोर्ट ने रेप मामले में दोषी का सजा सुनाया था. तब जिला अदालत ने दोषी पिता को 20 साल कैद की सजा सुनाई थी. साथ ही उसे 50 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया था.. दोषी पिता ने खाना पकाने के बहाने अपनी बेटी के साथ इस घिनौनी वारदात को अंजाम दिया था. जिला सहायक शासकीय अधिवक्ता रामसुफल सिंह ने बताया था कि अपर जिला एवं सत्र अदालत ने बंधक बनाकर अपनी 15 वर्षीय बेटी के साथ बलात्कार करने के मामले में दोषी पाए गए शख्स को 20 साल की कैद तथा 50 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनायी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज