मां की सेवा के लिए नियुक्ति के 17 दिन बाद ही छोड़ी अधिकारी की नौकरी

रायबरेली जनपद के धमसीराय का पूर्व निवासी अजय कुमार पुत्र स्वर्गीय श्रीनाथ की नियुक्ति बांदा जिले के मटौध नगर पंचायत में अधिशासी अधिकारी के तौर पर 20 जुलाई को हुई थी.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 31, 2018, 12:36 PM IST
मां की सेवा के लिए नियुक्ति के 17 दिन बाद ही छोड़ी अधिकारी की नौकरी
इस्तीफा ( प्रतीकात्मक तस्वीर )
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 31, 2018, 12:36 PM IST
उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग से चयनित नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी (ईओ) ने नियुक्ति के 17 दिन बाद ही अपने पद से इस्तीफा दे दिया. नगर पंचायत अध्यक्ष को 27 अगस्त को दिए अपने इस्तीफे में  अधिकारी ने लिखा है कि अपनी बुढ़ीऔर विधवा मां की देखभाल और सेवा के लिए त्यागपत्र दे रहे हैं. अध्यक्ष ने इस्तीफे को प्रदेश सरकार को भेज दिया है.

बता दें कि रायबरेली जनपद के धमसीराय का पूर्व निवासी अजय कुमार, पुत्र स्वर्गीय श्रीनाथ की नियुक्ति बांदा जिले के मटौध नगर पंचायत में अधिशासी अधिकारी के तौर पर 20 जुलाई को हुई थी. उन्होंने 10 अगस्त को अपना पदभार ग्रहण किया था. 27 अगस्त को अजय कुमार ने अपना इस्तीफा नगर पंचायत अध्यक्ष को सौंप दिया.

अपने इस्तीफे में अजय कुमार ने लिखा है कि वे अपनी वृद्ध और विधवा मां की सेवा करना चाहते हैं. अजय ने बताया कि उनकी मां 65 साल की हैं और अकेली हैं. उनकी सेवा के लिए समय निकालना ही त्यागपत्र का कारण है. उन्होंने कहा कि पिता का कुछ साल पहले निधन हो गया, जिसके बाद से उनकी मां की तबीयत ठीक नहीं रहती.

गौरतलब है कि अजय कुमार की नियुक्ति बेसिक शिक्षा विभाग में सहायक अध्यापक पद पर भी हो चुकी थी. फिलहाल नियुक्ति के 17 दिनों में ही इस्तीफा देने की वजह से वह सुर्ख़ियों में हैं.

ये भी पढ़ें: 

ओमप्रकाश राजभर ने दी शिवपाल को ये नसीहत, बोले- 2024 तक बीजेपी के साथ

सीएम योगी के 'सांप' बयान पर विधानसभा में जमकर हंगामा, काली पट्टी बांधकर सदन पहुंचा विपक्ष

गोंडा: ट्विटर पर शेयर की धार्मिक उन्माद फैलाने के लिए फर्जी तस्वीर, केस दर्ज
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर