Banda News: चित्रकूट गैंगवॉर के बाद बढ़ी डॉन मुख्तार अंसारी की टेंशन, DIG ने 5 घंटे तक लिया बांदा जेल का जायजा

बाहुबली माफिया विधायक मुख्तार अंसारी बांदा जेल की बैरिक 16 में बंद है.

बाहुबली माफिया विधायक मुख्तार अंसारी बांदा जेल की बैरिक 16 में बंद है.

Mukhtar Ansari News:चित्रकूट जेल गैंगवॉर के बाद प्रशासन काफी सख्‍त नजर आ रहा है. इस बीच जेल डीआईजी संजीव त्रिपाठी ने सोमवार देर रात बांदा जेल का निरीक्षण करने के साथ माफिया विधायक मुख्तार अंसारी की सुरक्षा और स्वास्थ्य को लेकर जेल के अधिकारियों से बातचीत की.

  • Share this:

बांदा. उत्‍तर प्रदेश की बांदा जेल का जेल डीआईजी संजीव त्रिपाठी (Jail DIG Sanjeev Tripathi) ने सोमवार देर रात औचक निरीक्षण किया है. इस दौरान जेल के अंदर उन्‍होंने सभी बैंरिकों की सघन तलाशी ली है. यही नहीं, उन्‍होंने बाहुबली माफिया विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) की सुरक्षा व्यवस्था और स्वास्थ्य को लेकर के भी जेल के अधिकारियों से बातचीत की. सूत्रों की मानें तो बांदा जेल मे बंद अंसारी से लगभग आधे घंटे तक जेल की बैरिक नंबर 16 में डीआईजी संजीव त्रिपाठी ने बातचीत की है और इस दौरान मुख्तार के स्वास्थ्य को लेकर की भी चर्चा हुई है.

बता दें कि कुछ दिन पहले चित्रकूट की जेल में गैंगवॉर की घटना में 3 लोगों की मौत के बाद जेल प्रशासन चुस्त-दुरुस्त नजर आ रहा है. जेल के अंदर गहन तलाशी निरीक्षण के बाद जेल डीआईजी ने जेल के तमाम सुरक्षा उपकरणों के साथ कैमरों को भी देखा. इसके साथ ही साथ जेल के कागजी रिकॉर्ड को भी देखा है और फिर लगभग 5 घंटे निरीक्षण और तलाशी लेने के बाद बांदा जेल के बाहर मीडिया से बात करते हुए जेल डीआईजी संजीव त्रिपाठी ने बताया कि बांदा जेल में पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था है और जेल में किसी तरह की कोई भी कमी निरीक्षण के दौरान नहीं मिली है. वहीं, उन्‍होंने मुख्तार की सुरक्षा को लेकर कहा कि जेलर और जेल अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं, ताकि उसकी सुरक्षा और स्वास्थ्य लेकर किसी तरह की कोई कोताही न बरती जाए.

Mukhtar Ansari News, बांदा जेल
बांदा जेल में पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था है और किसी तरह की कोई भी कमी निरीक्षण के दौरान नहीं मिली है: संजीव त्रिपाठी

जेल डीआईजी ने अंसारी से की आधे घंटे बात
जेल के सूत्रों की मानें तो जेल डीआईजी संजीव त्रिपाठी ने लगभग आधे घंटे तक मुख्तार अंसारी से उसकी बैरिक में जाकर पूछताछ की है और इस दौरान उसके स्वास्‍थ्य को लेकर के भी चर्चा की है. बता दें अभी कुछ दिन पहले चित्रकूट की जेल में जिन 3 बंदियों मे गैंगवॉर हुआ था, उसकी की भी जांच संजीव त्रिपाठी कर रहे हैं. चित्रकूट घटना होने के बाद जेल प्रशासन काफी सतर्क नजर आ रहा है. जबकि पुलिस के अधिकारी और प्रशासन के अधिकारियों साथ चित्रकूट धाम मंडल के जेल डीआईजी का यह दौरा मुख्तार की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर माना जा रहा है.

चित्रकूट गैंगवार की घटना के बाद मुख्तार अंसारी का वजन भी कुछ घट गया है. जेल सूत्रों के मुताबिक, मुख्तार अंसारी जेल के अंदर अपनी बैरक में कुछ परेशान रहता है. जबकि चित्रकूट की घटना में मारा गया एक अपराधी मुख्तार अंसारी करीबी गुर्गा बताया जा रहा है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज