Lockdown: रेप की सजा काट रहे कैदी ने बांदा में की आत्महत्या, पेरोल पर छूटकर आया था घर

पुलिस ने छात्रा का मोबाइल अपने कब्जे में ले लिया है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
पुलिस ने छात्रा का मोबाइल अपने कब्जे में ले लिया है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

बांदा में संदिग्ध परिस्थितियों में बलात्कार (Rape) के मामले में जेल की सजा काट रहे एक 50 वर्षीय अधेड़ उम्र के व्यक्ति की आग से जलकर मौत हो गई. वह अभी लॉकडाउन में छूटकर जेल से बाहर आया था.

  • Share this:
बांदा. उत्तर प्रदेश के बांदा में संदिग्ध परिस्थितियों में बलात्कार (Rape) के मामले में सजा काट रहे एक 50 वर्षीय अधेड़ उम्र के कैदी (Prisoner) ने आग लगाकर अपनी जान दे दी है. मृतक सजायाफ्ता कैदी था और अभी लॉकडाउन (Lockdown) में वह छूटकर जेल से बाहर आया था. इस मौत के बाद से परिजनों के बीच कोहराम मचा हुआ है. यह मामला गिरवा थाना क्षेत्र के सरस्वाह गांव से सामने आया है. जेल से छूटने के बाद वह अपने घर पर रह रहा था लेकिन देर रात अचानक से अधेड़ उम्र का व्यक्ति आग का गोला बना हुआ अपने घर के बाहर दिखाई दिया. इसके बाद आनन-फानन में परिजन ने दौड़कर व्यक्ति को बचाने का प्रयास किया और उसे अस्पताल पहुंचाया. वहां पहुंचने के बाद मौत हो गई.

रेप के मामले में हुई थी सजा

कोरोना संकट के दौरान जेल से कैदियों को छोड़ा गया. इनमें मृतक भी शामिल है. बताया जाता है कि गिरवा थाना क्षेत्र के सरस्वाह गांव निवासी जौहरी उम्र लगभग 50 वर्ष पुत्र भोली को दुष्कर्म के मामले में 7 साल की सजा हुई थी. इसमें से 5 साल की सजा दोषी काट चुका था.



मृतक पैरोल पर छूटा था
इसी दौरान करीब 1 माह पहले सरकार ने कोरोना वायरस के दौरान जो लोग अपनी आधी सजा काट चुके हैं उन सभी को पैरोल देकर छोड़ा था. जेल से कैदियों को छोड़ने के पीछे यह उद्देश्य है कि कारागारों मे सोशल डिस्टेंस बना रहे. लॉकडाउन में छूटने के बाद जौहरी अपने घर पर रह रहा था. एक मई की रात को अचानक अपने घर के बाहर परिजनो ने उसे गोला बना देखा.

इस मामले की जानकारी देते हुए गिरवा थाना प्रभारी शशि पांडे ने बताया कि सरस्वाह गांव में एक व्यक्ति के आग लगाकर आत्महत्या करने की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और मामले की तफ्तीश की जा रही है.

ये भी पढ़ें: भदोही में ट्रेन के आगे कूद प्रेमी जोड़े ने की खुदकुशी, एक ही गांव के थे दोनों

दिल्ली से 570 KM दूर फतेहपुर पैदल लौट रहे परिवार को ट्रैक्टर ट्रॉली ने कुचला 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज