लाइव टीवी

मुख्यमंत्री के नोडल अफसर बांदा पहुंचे, लोगों ने की स्वास्थ्य सेवाओं की शिकायत

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 26, 2019, 10:42 PM IST
मुख्यमंत्री के नोडल अफसर बांदा पहुंचे, लोगों ने की स्वास्थ्य सेवाओं की शिकायत
चौपाल में लोगों की समस्याएं सुनते नोडल अधिकारी

प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) की योजनाओं (Schemes) का सही क्रियान्वयन हो रहा है या नहीं इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने सभी जनपदों में नोडल अफसरों को भेजा है. नोडल अफसर ग्रामीणों के बीच चौपाल लगाकर जनता से योजनाओं के क्रियान्वयन की हकीकत को जानेंगे.

  • Share this:
बांदा. ग्रामीणों के बीच चौपाल (Choupal) लगाकर हकीकत जानने बांदा (Banda) पहुंचे सीएम के नोडल अधिकारी खाद्य एवं रसद आयुक्त मनीष चौहान ने पैलानी तहसील (Pailani Tehsil) में खुली बैठक की. बांदा के तिंदवारी (Tindwari) पहुंचे नोडल अधिकारी ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (Primary Health Centre) और बेंदा गांव (Benda Village) का निरीक्षण किया. थाने में आगन्तुक रजिस्टर, सीसीटीवी कैमरे, लॉकअप रूम, कंप्यूटर रूम का निरीक्षण किया.

टूटी नालियों को देखकर भड़के आयुक्त
श्री चौहान नगर के कान्हा पशु आश्रय केंद्र में भी पहुंचे जहां उन्होंने पशुओं के खान पान व गोबर का उपयोग करने को कहा. मनीष चौहान ने पैदल ही नगर के संतोषी नगर का भ्रमण किया तो पाया कि वहां की नालियां जाम व नाला बन्द है. टूटी नालियों को देख आयुक्त भड़के तो वहां मौजूद अफसर अजय यादव ने कहा कि उनकी अभी हाल में ही पोस्टिंग हुई है.

चिकित्सा सेवाओं पर दिखी लोगों की नाराज़गी

चिकित्सा सेवाओं को लेकर उन्हें लोगों की नाराज़गी का सामना करना पड़ा. ग्रामीणों ने बताया कि सरकारी अस्पताल में महिला चिकित्सक की कमी है. प्राथमिक चिकित्सा केंद्र में भर्ती मरीजों ने प्रसव कक्ष में तैनात महिला स्टॉफ नर्स पर डिलीवरी के समय पैसे लेने का आरोप लगाया. लोगों ने बताया कि नेशनल हाईवे की 30 किलोमीटर की दूरी के एक्सिडेंटल व 35 गांवों के मरीजों के लिए एक ही सुविधाविहीन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएचसी) है जिस पर उन्होंने इसी प्रांगण में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों (सीएचसी) जैसी सुविधाएं एक्सरे आदि मुहैया कराने की बात कही.

इन मामलों पर भी दिए आदेश
सीएम के नोडल अधिकारी आयुक्त मनीष चौहान ने बेंदा गांव में कोटेदार नियुक्त करने की प्रक्रिया को जल्द कराने के साथ कैम्प लगाकर पेंशन लाभार्थियों का चयन, किसान सम्मान निधि के लाभार्थियों के कैम्प लगाने, भैरम पुरवा तालाब से अवैध कब्जा हटाने आदि के भी आदेश दिये.
Loading...

ये भी पढ़ें -
फडणवीस के इस्तीफे पर अखिलेश का ट्वीट- नैतिक जिम्मेदार ‘भोर की भूल’ वाले भी दें इस्तीफा
अखाड़ा परिषद ने किया सुन्नी बोर्ड के फैसले का स्वागत, ओवैसी को पाक जाने की दी सलाह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बांदा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 26, 2019, 10:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...