हमीरपुर: मिडडे मील में दूषित दूध पीने से 12 बच्चों की हालत बिगड़ी, अध्यापक फरार

मामला हमीरपुर जिले के कुरारा थाना क्षेत्र के राजकीय इंटर कालेज का है. यहां प्रभारी प्रधानाचार्य संतोष शर्मा की देख-रेख में आज मिड डे मिल का खाना और दूध की व्यवस्था की गई. कक्षा 6 में पढ़ने वाले 12 बच्चों ने मिड डे मील में दूध पिया तो उनको उल्टी शुरू हो गई.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 1, 2018, 6:47 PM IST
हमीरपुर: मिडडे मील में दूषित दूध पीने से 12 बच्चों की हालत बिगड़ी, अध्यापक फरार
बीमार बच्चों का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में चल रहा इलाज. Photo: News 18
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 1, 2018, 6:47 PM IST
उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले के शिक्षा विभाग में आज उस समय हड़कम्प मच गया, जब मिड डे मील में दूषित दूध पीने से 12 बच्चों की हालत बिगड़ गई. उल्टी और दस्त की शिकायत के बाद बीमार बच्चों को स्कूल के अध्यापकों ने इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य में भर्ती कराया. यहां से आनन-फानन में उन्हें दिखाकर उनके घर भेज दिया और स्कूल को बन्द कर अध्यापक फरार हो गए.

स्कूल के शिक्षकों की लापरवाही की भेंट चढ़े ये बच्चे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में अपना इलाज करवा रहे हैं. बच्चे आज सुबह रोजाना की तरह ही स्कूल गए थे. स्कूल का मिड डे मील का खाना भी खाया था और दूध भी पिया था लेकिन यही दूध उनकी जान पर भारी पड़ गया. अब ये बच्चे सामुदायिक स्वास्थ केंद्र में अपना इलाज करवाने को आए हैं.

मामला हमीरपुर जिले के कुरारा थाना क्षेत्र के राजकीय इंटर कालेज का है. यहां प्रभारी प्रधानाचार्य संतोष शर्मा की देख-रेख में आज मिड डे मिल का खाना और दूध की व्यवस्था की गई. कक्षा 6 में पढ़ने वाले 12 बच्चों ने मिड डे मील में दूध पिया तो उनको उल्टी शुरू हो गई. इसके बाद स्कूल के शिक्षकों ने आनन-फानन में उन्हें सामुदायिक स्वास्थ केंद्र कुरारा में दिखाया और डाक्टरों से इलाज करवा कर उन्हें उनके घर भेज दिया. वहीं अपनी लापरवाही से डरे प्रभारी प्रधानाचार्य स्कूल बंद कर के ही भाग गये.

हमीरपुर के कुरारा चेयरमैन श्रीकान्त गुप्ता नेे बताया कि दूध में कमी की वजह से बच्चों की तबियत खराब हुई. खाना बनाने वाली महिला ने बताया कि किसी ने पहले बोला था कि दूध महक रहा है. श्रीकांत गुप्ता ने कहा कि उसके बाद भी उसे बच्चों के लिए दिया गया. बहरहाल ये भगवान की कृपा है कि बच्चों को ज्यादा कुछ नहीं हुआ. वह अब स्वस्थ हैं.

वैसे यह पहला मामला नहीं है, जब बच्चों की मिड डे मील खाकर बच्चो की हालत बिगड़ी हो. इससे पहले भी बच्चो के खाने में कीड़े मिलने की शिकायत सामने आ चुकी है.

(रिपोर्ट: उमाशंकर मिश्रा)

ये भी पढ़ें: 

बीजेपी की महिला विधायक ने की पूजा तो गंगाजल से धुलवाया पूरा मंदिर

'विधायक ही नहीं सदियों से इस मंदिर में महिलाओं का प्रवेश है प्रतिबंधित'
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर