Banda : कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय में खून से लथपथ चपरासी की लाश मिली
Banda News in Hindi

Banda : कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय में खून से लथपथ चपरासी की लाश मिली
पुलिस का कहना है कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के बाद ही मौत के सही कारण का पता चल पाएगा. (सांकेतिक तस्पीर)

स्कूल के कर्मचारी आत्महत्या की बात कह रहे हैं, जबकि मृतक के परिजनों ने शव को देखकर हत्या का आरोप लगाया है. सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस वारदात की जांच में जुटी हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 29, 2020, 8:47 PM IST
  • Share this:
बांदा. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बांदा (Banda) में कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय (Kasturba Gandhi Girls School) के चपरासी का खून से लथपथ शव उसी विद्यालय के एक कमरे से मिला है. उसकी हत्या (Murder) गोली मारकर की गई है. मृतक के सीने पर ही वह अवैध तमंचा भी रखा हुआ मिला, जिससे उसपर गोली चलाई गई है. स्कूल के कर्मचारी आत्महत्या (Suicide) की बात कह रहे हैं, जबकि मृतक के परिजनों ने शव को देखकर हत्या का आरोप लगाया है. सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस वारदात की जांच में जुटी हुई है.

फॉरेंसिक टीम मौके पर पहुंची

पूरा मामला बबेरू कस्बे के मर्का रोड पर बने कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय का है. यहां चंद्रशेखर द्विवेदी के बेटे बोधन प्रसाद (51) चपरासी पद पर तैनात थे. उनका शव विद्यालय के एक कमरे में मिला है. मृतक चंद्रशेखर द्विवेदी के सीने पर तमंचा भी पड़ा हुआ मिला. विद्यालय के कर्मचारी इसे आत्महत्या बता रहे हैं. सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस जांच में जुटी हुई है. परिजनों ने शव को देखते हुए हत्या का आरोप लगाया है. मौके पर फॉरेंसिक टीम भी पहुंची है और वह साक्ष्य तलाश रही है.



परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप
क्षेत्रीय विधायक चन्द्रपाल कुशवाहा और पूर्व विधायक विशंभर सिंह यादव ने घटनास्थल पर पहुंचकर दुख जताया है. उन्होंने कहा कि इस मामले की पूरी तरह से जांच होनी चाहिए. इसमें जो दोषी हो उनके खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए. वहीं, पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है और मामले की जांच मे जुट गई है. उसने कहा कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही हत्या और आत्महत्या की गुत्थी सुलझेगी. मृतक के भतीजे जितेश ने बताया की शव देखकर यही लग रहा है कि गोली मारकर हत्या की गई है और सीने पर तमंचा रख दिया गया ताकि आत्महत्या साबित हो. लेकिन हमारे चाचा की गोली मारकर हत्या की गई है. यह आत्महत्या नहीं है.

पुलिस को पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार

अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र प्रताप चौहान ने बताया कि बबेरू कोतवाली स्थित कस्तूरबा आवासीय विद्यालय में एक कर्मचारी के द्वारा खुद को गोली मारने की बात सामने आई है. शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पूरी वजह स्पष्ट हो पाएगी कि यह मामला हत्या का है या आत्महत्या है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज