बांदाः बच्चों के पॉर्न वीडियो बनाकर बेचने वाले जूनियर इंजीनियर रामभवन को हुआ कोरोना

Porn Videos बना कर देश-विदेश में बेचने वाला जेई रामभवन कोरोना संक्रमित (file photo)

केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने बाल यौन शोषण मामले में जूनियर इंजीनियर रामभवन को 16 नवंबर को गिरफ्तार किया था. जेल में हुई RT-PCR टेस्ट में आरोपी जेई की COVID-19 जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है.

  • Share this:
बांदा. बच्चों के साथ यौन शोषण (Sexual Exploitation) कर उनका पॉर्न वीडियो (Porn videos) बनाकर देश-विदेश में बेचने के आरोप जेई रामभवन सोमवार की शाम कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है. आज अदालत में केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) की रिमांड अर्जी पर सुनवाई है. बांदा जेल के कारा उपाधीक्षक विश्वेश्वर प्रताप सिंह ने मंगलवार को बताया कि "बाल यौन शोषण मामले में सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किए गए सिंचाई विभाग (पंचम) चित्रकूट के जेई रामभवन की सोमवार देर शाम हुई कोरोना की जांच में रिपोर्ट पॉजिटिव आई है."

उन्होंने बताया कि "जेल लाते समय 18 नवंबर को जिला अस्पताल में की गई जेई की जांच की रिपोर्ट निगेटिव थी लेकिन जेल में 20 नवंबर को दोबारा आरटीपीसीआर की जांच रिपोर्ट में वह संक्रमित पाया गया है. वह जेल में अकेला संक्रमित है और जेल के अस्पताल में उसका उपचार चल रहा है." आज अदालत में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की रिमांड अर्जी पर सुनवाई होनी है.

सीबीआई को करना होगा इंतजार
पॉक्सो अदालत में विशेष लोक अभियोजक रामसुफल सिंह ने कहा कि "बंदी के संक्रमित पाए जाने की स्थिति में रिमांड दिए जाने की कम ही उम्मीद है. सीबीआई उसकी रिपोर्ट निगेटिव होने का इंतजार कर सकती है या फिर जांच रिपोर्ट संदिग्ध होने की दशा में कोरोना जांच की पुनः मांग कर सकती है, क्योंकि जेल भेजते समय उसकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी." उन्होंने कहा कि "यदि सुनवाई के दौरान अदालत रिमांड अर्जी मंजूर भी कर ले तो सीबीआई उसे निगेटिव होने तक 'लेने से इनकार' भी कर सकती है."

सीबीआई ने 16 नवंबर को किया था गिरफ्तार
गौरतलब है कि केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने बाल यौन शोषण मामले में जेई रामभवन को 16 नवंबर को गिरफ्तार कर उसे 18 नवंबर को बांदा की पॉक्सो अधिनियम की विशेष अदालत में पेश किया था. इस समय जेई 30 नवंबर की अवधि तक न्यायिक हिरासत में जेल में है. सीबीआई टीम ने जब आरोपी को गिरफ्तार किया उसके पास से 8 लाख रुपए, चाइल्ड पॉर्नोग्राफी से संबंधित लैपटॉप, वेबकैम और वीडियो स्टोर करने की डिवाइस बरामद हुई थी.

देश और विदेशों में बेचा पॉर्न वीडियो
सीबीआई से मिली जानकारी के अनुसार आरोपी ने बीते 10 साल में बांदा, चित्रकूट में 50 से ज्यादा बच्चों का यौन शोषण किया और उनका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर अपलोड किया और विदेशों तक में बेचा है. सीबीआई के मुताबिक रामभवन ये वीडियो देश और विदेशों में कई लोगों को बेचता था.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.