Home /News /uttar-pradesh /

sp supporter lost bike in condition up chunav akhilesh yadav gave one lakh ab shart mat lagana nodelsp

SP की हार पर शर्त में हारी थी बाइक, समर्थक को अखिलेश ने 1 लाख देकर की भरपाई, बोले-अब ऐसा मत करना

बांदा में सपा की हार के साथ शर्त में बाइक हार गया समर्थक तो अखिलेश यादव ने की भरपाई.

बांदा में सपा की हार के साथ शर्त में बाइक हार गया समर्थक तो अखिलेश यादव ने की भरपाई.

Banda News: बुंदेलखंड के बांदा में विधानसभा चुनाव 2022 की मतगणना के पहले दो दोस्तों ने जीत हार को लेकर शर्त लगाई थी. इसकी लिखापढ़ी 100 रुपये के स्टांप पेपर पर की गई. सपा समर्थक ने कहा था कि अगर सपा हारती है तो वह अपनी बाईक भाजपा समर्थक को दे देंगे. अगर सपा जीतती है तो भाजपा समर्थक अपनी ऑटो सपा समर्थक को दे देंगे. सपा चुनाव हार गई तो उसके समर्थक को अपनी बाईक भाजपा समर्थक को देनी पड़ी. यह बात अखिलेश यादव तक पहुंची तो उन्होंने सपा समर्थक को बुलाकर अब कभी भी शर्त नहीं लगाने की बात कही. इसके साथ ही उसे 1 लाख 10 हजार रुपये भी दिए.

अधिक पढ़ें ...

बांदा. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के परिणाम (UP Assembly Election Results 20220 को लेकर कई जगहों पर शर्तें लगाई गईं थीं. बुंदेलखंड के बांदा में भी विधानसभा चुनाव 2022 की मतगणना के पहले दो दोस्तों ने जीत हार को लेकर आपसी शर्त लगाई थी. इसकी लिखा 100 रुपये के स्टांप पेपर पर की गई थी. इस में सपा समर्थक ने कहा था कि अगर सपा हारती है तो वह अपनी बाईक भाजपा समर्थक को दे देंगे. अगर सपा जीतती है तो भाजपा समर्थक अपनी ऑटो सपा समर्थक को दे देंगे. हुआ भी ऐसा ही. सपा चुनाव हार गई तो उसके समर्थक को अपनी बाईक भाजपा समर्थक को देनी पड़ी. यह बात चर्चाओं के साथ सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव तक पहुंची. उन्होंने सपा समर्थक को बुलाकर अब कभी भी शर्त नहीं लगाने की बात कही. इसके साथ ही उसे 1 लाख 10 हजार रुपये का चेक भी दिया.

पूरा मामला बांदा जनपद के मटौंध थाना क्षेत्र केे बसहरी गांव का है. यहां पर दो युवक अवधेश कुशवाहा और बृजकिशोर ऊर्फ बिलौटा दोनों अच्छे दोस्त हैं. ये दोनों ही अलग अलग पार्टी के समर्थक हैं. विधानसभा चुनाव में अवधेश कुशवाहा सपा के समर्थन में तो बृजकिशोर ऊर्फ बिलौटा भाजपा के समर्थन में माहौल बनाते देखे गए. ये दोनों अपनी अपनी पार्टी की जीत को लेकर इतने आश्वस्त थे कि दोनों ने अपनी बाइक और ऑटो को दांव पर लगा दिया.

दोनों दोस्तों में मतगणना के पहले हार जीत को लेकर शर्त लग गई. ये शर्त केवल मौखिक नहीं थी. कहा गया कि जो शर्त हारेगा वह अपनी बाईक या ऑटो जीतने वाले को देगा. बाईक सपा समर्थक के पास थी और ऑटो भाजपा समर्थक का था. दोनों ने शर्त को लेकर बकायदा 100 रुपये के स्टांप पर अनुबंध किया. मतगणना के बाद सपा समर्थक अपनी शर्त भाजपा समर्थक से हार गया और शर्त के मुताबिक सपा समर्थक को अपनी बाईक भाजपा समर्थक को देनी पड़ी.

यह खबर जिले में चर्चा का विषय बन चुकी थी. इसकी जानकारी सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तक को हो गई. शर्त हारने वाले अवधेश कुशवाहा ने बताया कि उसे अखिलेश यादव ने लखनऊ बुलाया और 1 लाख 10 हजार रुपये की चेक दी. साथ ही यह भी कहा कि दोबारा शर्त मत लगाना. फिलहाल यह मामला चर्चा का विषय बना है.

Tags: Akhilesh yadav, Banda News, UP news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर