प्रोफेसर बनना चाहती है ये मुस्लिम लड़की, धर्म का हवाला देकर बाप ने किया कैद

छात्रा ने बताया कि वह लोगों के कपड़े सिल अपनी पढ़ाई करती आई हैं और आगे भी अपनी पढ़ाई जारी रखना चाहती हैं. जबकि उसके पिता ऐसा नहीं चाहते और उसकी जबरन शादी करवा देना चाहते हैं.


Updated: June 28, 2018, 7:26 PM IST

Updated: June 28, 2018, 7:26 PM IST
यूपी के बांदा में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है यहां एक पढ़ी लिखी 23 वर्षीय मुस्लिम छात्रा पढ़ाई में रुकावट बने अपने पिता के खिलाफ पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंच गई. प्रार्थना पत्र में छात्रा ने बताया है कि उसके पिता धार्मिक आधार पर उसकी पढ़ाई लिखाई बंद करा उसकी शादी करवाना चाहते हैं जबकि वह नेट क्वालीफाई कर प्रोफेसर बनना चाहती है ताकि अपने जैसी लड़कियों को पढ़ा लिखा सके.

पुलिस को छात्रा ने बताया कि वह लोगों के कपड़े सिल अपनी पढ़ाई करती आई हैं और आगे भी अपनी पढ़ाई जारी रखना चाहती हैं. जबकि उसके पिता ऐसा नहीं चाहते और उसकी जबरन शादी करवा देना चाहते हैं.  पिछले तीन महीनों से उसकी नेट की कोचिंग बंद करा घर मे नजरबंद रखा जा रहा है और उसकी लगातार पिटाई होती है.

"दोबारा उस कैदखाने में नहीं जाना चाहती"
 अपना बस्ता और किताबें लेकर आई छात्रा ने बताया कि वह दोबारा उस कैदखाने में नहीं जाना चाहती. अब पुलिस को समझ नहीं आ रहा है कि वह इस मामले से कैसे निपटें. फिलहाल अपर एसपी एसलबीके पाल ने पूरे मामले को कोतवाली नगर और 181 हेल्पलाइन के सुपुर्द किया है. लड़की की सुरक्षा के लिए एक महिला कांस्टेबल को भी लगाया गया है. अपर एसपी ने बताया कि मामला छात्रा के कैरियर और उसकी व्यक्तिगत स्वतंत्रता से जुड़ा हुआ है और पुलिस हर हाल में उसकी स्वतंत्रता की रक्षा करेगी.

ये भी पढ़ें: राम मंदिर को लेकर संत समाज BJP से नाराज, कहा- विनाश की तरफ बढ़ रही है पार्टी

जबरन शादी कराना चाहता है पिता
ये पूरा मामला बांदा शहर के मर्दन नाका इलाके का है जहां 23 वर्षीय छात्रा ने धार्मिक आधार पर अपने पिता पर पढ़ाई रुकवाने का आरोप लगाया है. पुलिस को दिए प्रार्थना पत्र में छात्रा ने बताया कि वह पोस्ट ग्रेजुएट पास है और अभी नेट की तैयारी कर रही थी, उसके पिता उसकी शादी करवाना चाहते हैं. लेकिन वह पढ़लिख कर प्रोफेसर बनना चाहती है। अपर एसपी के निर्देश पर पुलिस ने लड़की के परिजनों को बुलवाया है. फिलहाल छात्रा को एक महिला कॉन्स्टेबल की सुरक्षा में कोतवाली पुलिस के पास भेजा गया है.

ये भी पढ़ें: VIDEO- गांव वालों ने 70 साल के बुजुर्ग की पेड़ की टहनी से कराई शादी, ये थी वजह

पुलिस ने कहा- किसी हाल में नहीं बंद होगी पढ़ाई
 परिजनों की पिटाई से आहत छात्रा किताबों का बस्ता उठा पुलिस अधीक्षक कार्यालय जा पहुंची. लड़की के दिमाग मे पिता का खौफ इस कदर कायम है कि वह किसी भी हालत में घर लौटने को तैयार नंही है. फिलहाल अपर एसपी ने कोतवाली नगर पुलिस को मामला ट्रांसफर किया है. छात्रा का कहना है कि वह लोगों के कपड़े सिलकर पढ़ाई करती आ रही है, लेकिन उसके परिजन धार्मिक आधार (प्रार्थना पत्र के अनुसार) पर जबरन उसकी शादी करा देना चाहते हैं. अपर एसपी ने बताया कि मामले में कोतवाली नगर पुलिस को परिवार से बातचीत कर छात्रा की मदद करने को कहा गया है, कहा कि किसी भी हालत में छात्रा को पढ़ाई बन्द नहीं होने दी जाएगी.

ये भी पढ़ें: ...जब कबीर की मज़ार पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया टोपी पहनने से इनकार
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर