लाइव टीवी

UP के इस शहर में दफ्तर के भीतर हेलमेट पहनकर ड्यूटी कर रहे बिजलीकर्मी

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 5, 2019, 10:19 AM IST
UP के इस शहर में दफ्तर के भीतर हेलमेट पहनकर ड्यूटी कर रहे बिजलीकर्मी
बांदा में हेलमेट पहनकर काम करने को मजबूर हैं बिजली कर्मी

पीलीकोठी पावर हाउस के जर्जर भवन के गिरने के खतरे को देखते हुए कर्मचारी यहां हेलमेट पहनकर काम कर रहे हैं. वो लगातार मौत के साए में रहकर नौकरी करने के लिए मजबूर हैं. उनकी मानें तो विभाग के अधिकारी इस ऑफिस में आते हैं, निरीक्षण करते हैं, लेकिन उसके बाद भी कोई इस जर्जर सरकारी दफ्तर का जीर्णोद्धार करने के विषय में नहीं सोच रहा.

  • Share this:
बांदा. आपने अक्सर लोगों को हेलमेट (Helmet) पहनकर मोटरसाइकिल-स्कूटर चलाते हुए देखा होगा, लेकिन उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बांदा (Banda) मे बिजली विभाग (Electricity Department) के कर्मचारी दफ्तर के अंदर हेलमेट पहनकर बैठने को मजबूर हैं. दरअसल पीलीकोठी पावर हाउस (Peeli Kothi Power House) के जर्जर भवन के गिरने के खतरे को देखते हुए कर्मचारी यहां हेलमेट पहनकर काम कर रहे हैं. वो लगातार मौत के साए में रहकर नौकरी (Job) करने के लिए मजबूर हैं. उनकी मानें तो विभाग के अधिकारी इस ऑफिस में आते हैं, निरीक्षण करते हैं, लेकिन उसके बाद भी कोई इस जर्जर सरकारी दफ्तर का जीर्णोद्धार करने के विषय में नहीं सोच रहा.

पूरी तरह जर्जर हालत में है दफ्तर

रोजाना पीलीकोठी पॉवर हाउस में सैकड़ों उपभोक्ता आते हैं. कुछ लोग जर्जर आफिस का हिस्सा टूटने से कई बार चोटिल भी हो चुके हैं. बावजूद इसके विभाग के अधिकारी भवन के जीर्णोद्धार के बारे में नहीं सोच रहे. यहां के कर्मचारी जान हथेली पर रखकर नौकरी करते हैं. उनके द्वारा जर्जर कार्यालय भवन की शिकायत अपने आला अधिकारियों और जिलाधिकारी से की गई, लेकिन समस्या जस की तस बनी हुई है. डर के साए में काम करने को मजबूर विद्युत कर्मचारी खुद को बचाने के लिए हेलमेट लगाकर दफ्तर के अंदर बैठकर काम कर रहे हैं. उनको डर है कि कभी भी कोई भी सीलिंग उनके ऊपर गिर सकती हैं, जिससे कर्मचारी गंभीर रूप से घायल हो सकते हैं या किसी की मौत भी हो सकती है, कुछ उपभोक्ता पहले घायल भी हुए हैं.

अधिकारी नहीं दे रहे ध्यान

आफिस के अंदर हेलमेट पहन कर काम कर रहे कर्मचारियों से जब इसका कारण पूछा गया तो हैरान कर देने वाली दहशत थी. उन्होंने बताया कि हम लोग यहां कई वर्षों से मौत के साए में रहकर अपनी नौकरी कर रहे हैं, लेकिन अधिकारी इस ओर ध्यान देने तक की जहमत नहीं कर रहे. हमारे ऑफिस की छत की पूरी सीलिंग टूट-टूट कर कर गिर रही है. जिसके चलते कुछ दिनों पहले एक महिला घायल भी हो गई थी. इसके बाद भी विद्युत विभाग के अधिकारी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं. हमें लगता है शायद विद्युत विभाग के अधिकारी और जिला प्रशासन किसी बड़े हादसे का इंतजार कर रहा है.

वहीं बिजली विभाग के चीफ इंजीनियर केके भरद्वाज ने इस संबंध में पूछे जाने पर बताया कि कर्मियों के हेलमेट पहनकर काम करने की जानकारी तो नहीं है, लेकिन मीटर विभाग टीन शेड का है, जिसका कुछ हिस्सा जर्जर है, जल्द ही उसे बदलवाने का कार्य शुरू किया जाएगा.

ये भी पढ़ें:
Loading...

वाराणसी की यह अनोखी लाइब्रेरी प्रदूषण के खिलाफ लोगों को कर रही जागरूक

देश के दूसरे सबसे प्रदूषित शहर गाज़ियाबाद में ODD-EVEN के लिए PIL

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बांदा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 5, 2019, 8:53 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...