बाराबंकी कांड: पुलिस के खुलासे से पीड़ित परिवार नाराज, CBI जांच की मांग

पुलिस के खुलासे से पीड़ित परिवार नाराज
पुलिस के खुलासे से पीड़ित परिवार नाराज

प्रभारी पुलिस अधीक्षक (SP) आरएस गौतम ने बताया कि किशोरी के दुष्कर्म (Rape) व हत्या (Murder) का आरोपी दिनेश (19) को गिरफ्तार किया गया है.

  • Share this:
बाराबंकी. उत्तर प्रदेश में बाराबंकी (Barabanki) जिले में एक दलित नाबालिग लड़की की रेप (Rape) के बाद हत्या करने का मामला सामने आया है. प्रभारी पुलिस अधीक्षक आरएस गौतम ने बताया कि किशोरी के दुष्कर्म व हत्या का आरोपी दिनेश (19) को गिरफ्तार किया गया है. उसने घटना में संलिप्त होना स्वीकार किया है. अन्य जानकारियां भी दी हैं. जिनका सत्यापन कराया जा रहा है. पीड़ित लड़की के पिता ने पुलिस के खुलासे पर सवालिया निशान खड़ा करते हुए सीबीआई से जांच की मांग की.

मृत किशोरी के पिता ने पुलिस की जांच पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि जिन लड़कों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है वह सब परिवार के लोग हैं और सभी निर्दोष है. उनको बलि का बकरा बनाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि पुलिस की जांच पर विश्वास नहीं है और वह चाहते हैं कि अगर इंसाफ दिलाना चाहती है तो इस घटनाक्रम की सरकार सीबीआई जांच करवाए. उधर उसके परिजनों से जिला प्रशासन के अधिकारी और पुलिस अफसर भी अलग-अलग मिलते रहे.


घटना बाराबंकी जिले में सतरिख थाना क्षेत्र की है. जानकारी के अनुसार, नाबालिग दलित किशोरी का शव पड़ोसी के खेत से बरामद हुआ था. वह बटाई का धान काटने के लिए खेत गई थी. एसपी आरएस गौतम ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट से खुलासा किया है कि युवती की रेप के बाद हत्या की गई थी.
इससे पहले पीड़ित परिजनों का आरोप है कि पुलिस शुरुआत में मामले को दबाने में लगी रही. लेकिन, गुरुवार देर शाम आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट में रेप के बाद गला दबा कर हत्या करने की पुष्टि हुई. माता-पिता जहां पीड़िता को नाबालिग बता रहे हैं, तो वहीं पुलिस युवती को बालिग बता रही है.





डॉक्टर बोले- पहली बार देखा ऐसा केस

डॉक्टरों के जिस पैनल ने लड़की का पोस्टमार्टम किया उनका भी कहना है कि उन्होंने पहली बार इतना विभत्स केस देखा है. डॉक्टरों ने साफ कहा कि दुराचार के दौरान नाक और मुंह दबाने के चलते नाबालिग किशोरी की जान गई. साथ ही किशोरी के निजी अंगों पर भी चोट के काफी गंभीर निशान मिले हैं. लोगों का कहना है कि मौका-ए-वारदात पर शराब की बोतलें भी मिली थीं. हालांकि, अभी तक आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर हैं और उनका कोई भी सुराग नहीं लग सका है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज