बाराबंकी शराबकांड: पुलिस मुठभेड़ में दो और आरोपी गिरफ्तार, अब तक 26 की मौत

शराबकांड में अब तक 26 लोगों की मौत हो चुकी है और मामले में कुल 10 आरोपियों को गिराफ्तार किया जा चुका है.

Amit Tiwari | News18 Uttar Pradesh
Updated: June 5, 2019, 9:37 AM IST
बाराबंकी शराबकांड: पुलिस मुठभेड़ में दो और आरोपी गिरफ्तार, अब तक 26 की मौत
घायल शानू कुरैशी
Amit Tiwari
Amit Tiwari | News18 Uttar Pradesh
Updated: June 5, 2019, 9:37 AM IST
सीतापुर और बाराबंकी जहरीली शराबकांड में पुलिस ने दो और आरोपियों को गिरफ्तार किया है. गिराफ्तार एक आरोपी शानू कुरेशी पर पुलिस ने 25 हजार रुपये का ईमान रखा था. पुलिस से हुई मुठभेड में आरोपी शानू कुरेशी के दाहिने पैर पर गोली लगी है. उसे इलाज के लिए ट्रॉमा सेंटर रेफर किया गया है. शानू कुरेशी के साथ पुलिस ने विपिन अवस्थी को भी गिराफ्तार किया है. वहीं शराबकांड में अब तक 26 लोगों की मौत हो चुकी है और मामले में कुल 10 आरोपियों को गिराफ्तार किया जा चुका है.

दरअसल, मंगलवार शाम पुलिस संदिग्ध वाहनों और लोगों की चेकिंग का अभियान चलाए हुए थी, उसी दौरान आरोपी शानू कुरेशी एक अन्य के साथ मोटरसाइकिल पर सवार होकर नगर कोतवाली क्षेत्र के गदिया गांव से जा रहा था. पुलिस ने जब उसे रोकना चाहा तो दोनों ने टीम पर गोली चला दी. जिसके बाद जवाबी फायरिंग में पुलिस की गोली शानू कुरेशी के पैर में लगी और वह गिर गया. शानू कुरेशी और साथ मे जा रहे विपिन अवस्थी को पुलिस ने गिराफ्तार कर लिया.

शानू कुरेशी सप्लाई करता था थिनर

शानू कुरेशी जहरीली शराबकांड के आरोपियों को थिनर समेत दूसरे केमिकल सप्लाई करने का काम करता था. वह थिनर कानपुर से लखनऊ मंगवाता था और आरोपियों को सप्लाई कर देता था. शानू कुरेशी के नाम का खुलासा आरोपी सुनील जायसवाल ने पुलिस पूछताछ में किया था. जिसके बाद बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक अजय कुमार साहनी ने शानू कुरेशी पर पच्चीस हजार का ईनाम घोषित कर उसकी गिरफ्तारी के लिए तीन टीमें लगाई थीं.

बाराबंकी के अपर पुलिस अधीक्षक आरएस गौतम ने बताया कि पूरे जिले में संदिग्ध वाहन और लोगों की चेकिंग चल रही थी. इसी क्रम में नगर कोतवाली के गदिया चौकी क्षेत्र में एक संदिग्ध मोटरसाइकिल को देखा गया. जिसपर दो लोग सवार थे. पुलिस ने जब इन लोगों को रोका तो दोनों ने पुलिस पर फायर झोंक दिया. जिसके बाद पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की. पुलिस फायरिंग में आरोपी शानू कुरेशी के पैर में गोली लगी जबकि विपिन अवस्थी नाम के आरोपी को भी पुलिस ने दबोच लिया. शानू कुरेशी ही आरोपी सुनील जायसवाल को शराब में मिलाने के लिए थिनर और दूसरे केमिकल मुहैया कराता था. जिसे सुनील जायसवाल बाराबंकी और सीतापुर के ठेकों में सप्‍लाई कर देता था. शानू पर पुलिस ने 25 हजार रुपये का ईनाम रखा था.

(रिपोर्ट: अनिरुद्ध शुक्ला)

ये भी पढ़ें- यादव वोट बैंक नहीं बल्कि SP-BSP गठबंधन टूटने की ये है असली वजह
Loading...

सुल्तानपुर: पूर्व सपा विधायक की प्रेमिका ने बीच सड़क पर काटा बवाल, वीडियो वायरल

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बाराबंकी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 5, 2019, 9:37 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...