बाराबंकी: देवी मंदिर में युवक ने दी खुद की बलि, नजारा देखकर सहम गए लोग

मामला बाराबंकी जिले के कोटवाधाम का है, जहां अनिरुद्ध यादव नाम के युवक ने अपनी बलि चढ़ा दी.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 10, 2018, 3:00 PM IST
बाराबंकी: देवी मंदिर में युवक ने दी खुद की बलि, नजारा देखकर सहम गए लोग
अनिरुद्ध यादव की मौत के बाद परिवार में कोहराम मचा है
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 10, 2018, 3:00 PM IST
राजधानी लखनऊ से सटे बाराबंकी जिले में एक युवक ने अपनी गर्दन काटकर देवी के चरणों में चढ़ा दिया. युवक द्वारा खुद की बलि देने वाले नज़ारे को देखकर वहां उपस्थित सभी लोग सहम गए. बता दें बीते दिनों बाराबंकी जिले के ही रामनगर थाना क्षेत्र से एक मामला सामने आया था. जहां तांत्रिक के कहने पर 24 उंगलियों वाले लड़के की उसके ही रिश्तेदार बलि चढ़ाना चाहते थे. हालांकि समय पर पुलिस की कार्रवाई से उसकी जान तो बचा ली गई. लेकिन वहां से कुछ किलोमीटर की दूरी पर एक युवक ने खुद गर्दन काटकर अपनी बलि चढ़ा दी.

मामला बाराबंकी जिले के कोटवाधाम का है, जहां अनिरुद्ध यादव नाम के युवक ने अपनी बलि चढ़ा दी. अनिरुद्ध यादव ने मंदिर पर अपनी गर्दन काट ली, जिसके बाद वहीं उसकी तड़प-तड़पकर मौत हो गई. अनिरुद्ध यादव दरियाबाद थाना क्षेत्र में उड़वा गांव का रहने वाला था.

मृतक के पिता ने बताया कि अनिरुद्ध यादव बीते एक साल से देवी मंदिर में पूजा करने के लिए जाता था और एक साल तक उसने अनाज का एक दाना भी नहीं खाया था. उन्होंने बताया कि एक साल व्रत रहने के बाद उसने गांव में भंडारा भी कराया था. पिता ने बताया कि सोमवार को वह मंदिर आया और अपनी गर्दन काट ली. गर्दन काटने के बाद जब वह तड़प-तड़पकर चिल्लाने लगा तो मेंदिर के बाबा और दूसरे लोगों ने उसे देखा. फिर वह लोग उसे उठाकर मंदिर के बाहर लाए.

ग्रामीणों का कहना है कि अनिरुद्ध यादव काफी आस्थावान व्यक्ति था और सुबह 4 बजे ही मंदिर आकर बाजा बजाकर आस्था में डूब जाता था. वह काफी देर तक पूजापाठ करता था. ग्रामीणों को शक तब हुआ जब आज बाज़ा रोज की तरह नही बजा. इसको देखने जब ग्रामीण पहुंचे तो अनिरुद्ध के धड़ से गर्दन कटी हुई थी. यह सब नज़ारा देख कर पूरे गांव में कोहराम मच गया.

वहीं इस मामले में बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक वीपी श्रीवास्तव ने बताया कि सुबह जानकारी मिली की 18-19 साल के अनिरुद्ध यादव नाम के एक लड़के ने अपनी गर्दन काटकर मंदिर में बलि दे दी. लड़का बीए की पढ़ाई कर रहा था. जानकारी के मुताबिक लड़का रोज मंदिर में पूजा करने के लिए जाया करता था. एसपी ने बताया कि लोगों ने उसे बलि देते हुए देखा साथ ही वहीं पर हथियार भी बरामद हुआ है.

वीपी श्रीवास्तव के मुताबिक गांव वाले लड़के के पोस्टमार्टम के लिए तैयार नहीं हैं. इसलिए मैंने एडिश्नल एसपी को मौके पर भेजा है. जिससे वह पोस्टमार्टम के लिए तैयार हो जाएं. उन्होंने बताया कि अगर गांव वाले नहीं मानेंगे तो शव का पंचनामा करवाकर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

(रिपोर्ट: अनिरुद्ध शुक्ला)

यह भी पढ़ें:

प्रतापगढ़: बदमाशों के खौफ से व्यापारी ने किया पलायन, 10 लाख की मांगी है रंगदारी

इलाहाबाद में दिखा नया सियासी समीकरण, कांग्रेस-बसपा ने साथ में जताया विरोध

प्रतापगढ़: बदमाशों के खौफ से व्यापारी ने किया पलायन, 10 लाख की मांगी है रंगदारी
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर