लाइव टीवी
Elec-widget

बाराबंकी: परिवहन विभाग को करोड़ों का चूना लगा रहे डग्गामार वाहन, प्रशासन मौन

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 20, 2019, 2:58 PM IST
बाराबंकी: परिवहन विभाग को करोड़ों का चूना लगा रहे डग्गामार वाहन, प्रशासन मौन
डग्गामार वाहन लगा रहे हैं राजस्व को चूना

बाराबंकी जिले में संचालित होने वाले डग्गामार वाहनों पर रोक लगाने में विभागीय जिम्मेदार फेल हो चुके हैं.

  • Share this:
बाराबंकी. यातायात नियमों (Traffic Rules) को ताक पर रखकर बाराबंकी (Barabanki) जिले के लगभग सभी मार्गों पर डग्गामार वाहनों (Private Vehicles) का बेखौफ संचालन किया जा रहा है. रोडवेज बसों (Roadways Buses) की कमी की वजह से डग्गामार प्राइवेट वाहन सवारियों से मनमानी वसूली करते हैं और बेतरतीब ढंग से यात्रियों को बैठाकर उनकी जान से खिलवाड़ भी. सरकारी वाहनों की कमी के चलते लोग जान हथेली पर रखकर यात्रा करने को मजबूर हैं. इसी का फायदा उठाकर यह डग्गामार वाहन सरकार को करोड़ों का चूना लगा रहा है.

नहीं कर रहे ट्रैफिक नियमों का पालन

बाराबंकी जिले में संचालित होने वाले डग्गामार वाहनों पर रोक लगाने में विभागीय जिम्मेदार फेल हो चुके हैं. यहां चलने वाले निजी वाहनों पर कोई भी ट्रैफिक नियम लागू नहीं होता. इन वाहनों में क्षमता से अधिक सवारियां बैठाई जाती हैं. मनमाने ढंग से किराया लेने के साथ ही वाहन चालक लोगों को गाड़ी के बाहर लटकाकर भी चलने से गुरेज नहीं करते. इसके चलते दुर्घटना की बराबर आशंका बनी रहती है. बावजूद इसके जिले का पुलिस-प्रशासन मूक दर्शक बना रहता है.

प्रशासन दे रहा कार्रवाई का भरोसा

वहीं जब इस मामले में बाराबंकी के एएसपी आरएस गौतम से बात की गई तो उन्होंने बड़े ही हल्के लहजे में कहा कि जिले का पुलिस-प्रशासन लगातार ऐसे वाहनों के खिलाफ अभियान चला रहा है. ऐसे वाहनों पर कार्रवाई की जाएगी. हालांकि एएसपी साहब के मुताबिक अगर पुलिस-प्रशासन की कार्रवाई हुई होती तो शायद जिले में इतनी धड़ल्ले से डग्गामार वाहन न चलते. वहीं दूसरी तरफ रोडवेज के एआरएम आरएस वर्मा भी इन डग्गामार वाहनों के सामने सरकारी बसों की कमी का रोना रो रहे हैं. उनका कहना है कि इन डग्गामार वाहनों के खिलाफ एआरटीओ साहब से भी शिकायत कर चुके हैं, लेकिन इनपर कोई रोक नहीं लग पा रही.

जल्द लिया जायेगा एक्शन

एआरटीओ पंकज सिंह का कहना है कि उनका विभाग ऐसे डग्गामार वाहनों पर लगातार कार्रवाई कर रहा है. जिले में जो भी ऐसे वाहन बचे हुए हैं उनके खिलाफ भी जल्द से जल्द सख्त एक्शन लिया जाएगा. हम लोग अभियान चलाकर ऐसे वाहनों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बाराबंकी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 20, 2019, 2:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...