पिता ने दर्ज कराया था दहेज हत्या का केस, शादी कर दिल्ली में रह रही थी लड़की

मामला बाराबंकी जिले के सफदरगंज थाना क्षेत्र से जुड़ा है. यहां एक गांव के निवासी हरिप्रसाद ने कोर्ट के आदेश के बाद अपनी लड़की रुचि की दहेज के चलते हत्या करने का मामला दर्ज कराया था.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 30, 2018, 5:35 PM IST
पिता ने दर्ज कराया था दहेज हत्या का केस, शादी कर दिल्ली में रह रही थी लड़की
एसीपी ऑफिस पहुंची रूचि
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 30, 2018, 5:35 PM IST
बाराबंकी जिले में एक पिता ने अपनी लड़की की दहेज हत्या का मामला दर्ज कराया। लेकिन करीब एक साल बाद इस मामले में ऐसा खुलासा हुआ जिसने पुलिस के भी होश उड़ा दिए. दरअसल इस मामले में लड़की की हत्या नहीं हुई थी, बल्कि वह दूसरे शख्स से शादी करके दिल्ली में रह रही थी और उसे फेसबुक के जरिये पुलिस ने ट्रैक कर लिया. इस मामले के खुलासे के बाद लड़की के परिवार वाले भी हैरान हैं.

मामला बाराबंकी जिले के सफदरगंज थाना क्षेत्र से जुड़ा है. यहां एक गांव के निवासी हरिप्रसाद ने कोर्ट के आदेश के बाद अपनी लड़की रुचि की दहेज के चलते हत्या करने का मामला दर्ज कराया था. पिता हरिप्रसाद ने आरोप लगाया था कि उधौला गांव के निवासी रुचि के पति राहुल, उसके ससुर रामहर्ष और सास बड़की ने उनकी लड़की को दहेज के लिए आए दिन परेशान किया करते थे. एक दिन जब वह उससे मिलने गए तो उसके ससुराल वालों ने उन्हें लड़की से मिलने नहीं दिया. जिसके बाद उसे लगा कि उनकी लड़की की ससुराल वालों ने हत्या कर दी है.

पुलिस इस मामले की तफ्तीश कर ही रही थी कि तभी उसके सामने दूसरी ही कहानी निकलकर सामने आई. जिसके बाद पुलिस के भी होश उड़ गए. पुलिस को साइबर सेल और सर्विलांस टीम की मदद से रुचि की कुछ जानकारी हाथ लगी और उसके बाद आज रुचि खुद अपने दूसरे पति रामू और जेठ दुलारे के साथ सफदरगंज थाने पहुंची. रुचि ने बताया कि उनके पिताजी को ये नहीं पता था कि वह कहां है. इसीलिए उन्होंने मुकदमा लिखा दिया.

रुचि के मुताबिक एक साल पहले उसने लखीमपुर खीरी जिले के निवासी रामू नाम के शख्स से अपनी रजामंदी से शादी कर ली थी और दिल्ली में उसी के साथ रह रही थी. लड़की ने बताया कि उसके पति रामू अपनी फेसबुक आईडी चलाते थे, वहीं से हमारा पता चला.

रुचि के पिता ने बताया कि उनकी लड़की बीते करीब एक साल से नहीं मिल रही थी. जिसका मुकदमा उन्होंने राहुल नाम के शख्स पर दर्ज कराया था. पिता ने बताया कि उन्हें लग रहा था कि उनकी लड़की के साथ कोई अनहोनी हो गई है. लेकिन पुलिस ने उसे सही सलामत बरामद कर लिया है.

वहीं इस मामले पर बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक वीपी श्रीवास्तव ने बताया कि न्यायालय के आदेश पर सफदरगंज थाने में मामला दर्ज हुआ था. जिसमें सर्विलांस और साइबर सेल की मदद से पुलिस ने लड़की की जानकारी इक्ट्ठा की तो पता चला कि वह शादी करके दिल्ली में रह रही है. लड़की अपने पति और जेठ के साथ थाने में पेश हो गई है. एसपी ने बताया कि इस मामले में इन लोगों ने पुलिस और न्यायालय को गुमराह करने का काम किया है. इसलिए इन लोगों के खिलाफ धारा 182 के अंतर्गत मामला दर्ज करके न्यायालय को भी अवगत कराया जाएगा.

(रिपोर्ट: अनिरुद्ध शुक्ला)

ये भी पढ़ें: 

ओमप्रकाश राजभर ने दी शिवपाल को ये नसीहत, बोले- 2024 तक बीजेपी के साथ

सीएम योगी के 'सांप' बयान पर विधानसभा में जमकर हंगामा, काली पट्टी बांधकर सदन पहुंचा विपक्ष

गोंडा: ट्विटर पर शेयर की धार्मिक उन्माद फैलाने के लिए फर्जी तस्वीर, केस दर्ज
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर