Home /News /uttar-pradesh /

'स्ट्रॉबेरी' की खेती ने बदली सत्येंद्र की तकदीर, हर साल कमा रहे बंपर मुनाफा

'स्ट्रॉबेरी' की खेती ने बदली सत्येंद्र की तकदीर, हर साल कमा रहे बंपर मुनाफा

'स्ट्रॉबेरी'

'स्ट्रॉबेरी'

बाराबंकी के जैदपुर रोड स्थित बरौली गांव के रहने वाले किसान सत्येंद्र वर्मा ने जब इस खेती की शुरुआत की तो लोगों ने इसे काफी जोखिम भरा फैसला बताया. लेकिन जब वह इस खेती में कामयाब हो गए तो जिले के दूसरे किसान भी इससे आकर्षित होने लगे.

अधिक पढ़ें ...
    मेंथा और केले की खेती में महारत हासिल करने के बाद बाराबंकी जिले के किसान 'स्ट्रॉबेरी' की खेती कर अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं. एक एकड़ में दो से तीन लाख की लागत लगाकर दोगुना फायदा देने वाली इस फसल जिले के किसानों की माली हालत बदल रही है. महाराष्ट्र से इस खेती के गुर सीखकर आए किसान सत्येंद्र वर्मा ने जब जिले में 'स्ट्रॉबेरी' की फसल लगानी चाही तो लोगों ने इसे रिस्की फैसला बताया. लेकिन सत्येंद्र वर्मा ने घाटे की चिंता किया बगैर 'स्ट्राबेरी' की खेती करनी शुरू की और यह उनके आत्मविश्वास का ही नतीजा है कि आज वह इस फसल से लाखों का मुनाफा कमा रहे हैं.

    बता दें कि पिछले कुछ सालों में खेती को लेकर किसानों की सोच काफी बदल चुकी है. उनका रुझान गैरपरंपरागत खेती की तरफ तेजी से बढ़ा है. इसी का नतीजा है कि स्ट्रॉबेरी जैसी फसल जिसकी पैदावार ठंडे प्रदेशों में ही संभव थी, अब गर्म प्रदेशों में किसान इससे बंपर मुनाफा कमा रहे हैं. स्ट्राबेरी की खेती करने वाले बाराबंकी के सत्येंद्र वर्मा की अगर मानें तो एक एकड़ की फसल में किसान 5-6 लाख रुपए तक की कमाई कर सकते हैं.

    'स्ट्रॉबेरी' की पैकिंग करती महिलाएं


    बाराबंकी के जैदपुर रोड स्थित बरौली गांव के रहने वाले किसान सत्येंद्र वर्मा ने जब इस खेती की शुरुआत की तो लोगों ने इसे काफी जोखिम भरा फैसला बताया. लेकिन जब वह इस खेती में कामयाब हो गए तो जिले के दूसरे किसान भी इससे आकर्षित होने लगे. इसी का नतीजा है कि अब दूसरे किसान भी सत्येंद्र वर्मा के खेतों पर आकर इस फसल के तौर तरीके सीख रहे हैं. जिससे किसान के घर की माली हालत ठीक होने के साथ ही उनका कल भी बदलता दिख रहा है.

    किसान सत्येंद्र वर्मा


    सत्येंद्र वर्मा ने बताया कि साल 2013 में जब उन्होंने स्ट्राबेरी की खेती शुरू की, लोगों को इसके बारे में कुछ भी पता नहीं था. उन्होंने बताया कि उस साल उन्हें इस खेती से जबरदस्त मुनाफा हुआ और गांव वालों को भी पता चला कि स्ट्राबेरी की भी कोई खेती होती है. सत्येंद्र वर्मा ने बताया कि हर साल वह खेती का एरिया बढ़ाते गए और आज वह तीन एकड़ में स्ट्राबेरी की खेती कर रहे हैं. उनके पास कई वैराइटी के करीब 70 हजार स्ट्रॉबेरी के प्लांट लगे हैं.

    (रिपाेर्ट: अनिरुद्ध शुक्ला)

    ये भी पढ़ें:

    अलीगढ़ पुलिस की अनोखी पहल, अब कप्तान से लेकर मातहत तक करेंगे 'गौ सेवा'

    जानिए कब अमेठी में आमने-सामने होंगे राहुल गांधी और स्मृति ईरानी

    बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर सुबोध को कुल्हाड़ी से घायल करने वाला आरोपी कलुआ गिरफ्तार

    बुलंदशहर हिंसा: जानिए कौन है इंस्पेक्टर का हत्यारा प्रशांत 'नट'

    अमरोहा में फिर NIA और ATS की छापेमारी, गिरफ्तार हो सकते हैं चार संदिग्ध

     

     

    Tags: Landless farmer, Lucknow news, Pm narendra modi, Uttar pradesh news, Yogi adityanath, बाराबंकी

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर