UP: लड़कियों को बेचने वाले शख्स ने 80 हजार में कर दिया बहू का सौदा, 8 गुजराती गिरफ्तार

कमीशन लेकर 300 से ज्यादा शादियां कराने वाला ससुर,

बाराबंकी (Barabanki) के अपर पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार सिंह ने बताया कि प्रिंस वर्मा की सूचना पर पुलिस ने रेलवे स्टेशन से गुजरात राज्य से आये 3 महिलाओं सहित कुल 8 लोगों को हिरासत में लिया है.

  • Share this:
बाराबंकी. उत्‍तर प्रदेश के बाराबंकी (Barabanki) जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. यहां एक गांव में ससुर ने अपनी ही बहू का सौदा 80 हजार रुपये में कर दिया. बताया जा रहा है कि आरोपी ससुर गांव में 300 से ज्यादा शादियां कमीशन लेकर करा चुका है. शख्‍स ने बेटे को अंधेरे में रख कर गुजरात राज्य के लोगों के हाथों बहू का सौदा कर दिया. बेटे की तहरीर पर पुलिस ने गुजरात से बहू को लेने आये 8 लोगों को गिरफ्तार कर लिया. आरोपी ससुर और उसका साथी पुलिस की पकड़ से अभी तक दूर है.

घटना बाराबंकी जनपद के थाना रामनगर के मल्लापुर गांव की है. जहां प्रिंस वर्मा नाम के एक शख्स ने पुलिस में सूचना दी कि उसके पिता चन्द्र राम वर्मा ने उसकी पत्नी को गुजरात राज्य से आए कुछ लोगों के हाथों 80,000 रुपये में बेच दिया और खरीदार बाराबंकी रेलवे स्टेशन पर उसकी पत्नी के आने का इंतजार कर रहे हैं. प्रिंस वर्मा की इस सूचना पर बाराबंकी पुलिस सक्रिय हुई और पुलिस अधीक्षक द्वारा गठित टीम रेलवे स्टेशन पहुंची. रेलवे स्टेशन पर गुजरात राज्य से आए 8 लोगों से जब पूछताछ हुई तो सारा मामला खुलकर सामने आ गया.

योगी सरकार पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव का तंज, '...किसी और के पते पर बंद लिफाते आते हैं'

दरअसल, प्रिंस वर्मा के पिता चन्द्र राम वर्मा का एक परिचित रामू गौतम गुजरात में रहता है और वहां एक व्यक्ति साहिल पंचा की शादी नहीं हो रही थी. राजू ने साहिल की बात चन्द्र राम वर्मा से करायी और शादी कराने की एवज में 80 हजार रुपये देने की बात हुई. जब कोई लड़की नहीं मिली तो गाजियाबाद में बेटे के साथ रहने वाली अपनी बहू की फोटो चन्द्र राम ने भेज दी. बहू को घर बुलाने के लिए चन्द्र राम वर्मा ने अपनी बीमारी का नाटक किया और बेटे को बहू को भेजने के लिए मना लिया. बहू जब घर आयी तो उसके खरीदारों को भी चन्द्र राम वर्मा ने अगले ही दिन बुला लिया और बहू को गाजियाबाद भेजने का झांसा देकर साथ जाने के लिए कह दिया, लेकिन बेटे के बगैर बहू को मंगाने और फिर वापस भेजने पर बेटे को शक हो गया और सारा मामला खुल गया.

आरोपी ससुर की तलाश
बाराबंकी के अपर पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार सिंह ने बताया कि प्रिंस वर्मा की सूचना पर पुलिस ने रेलवे स्टेशन से गुजरात राज्य से आए 3 महिलाओं सहित कुल 8 लोगों को हिरासत में लिया है, जिसमें साहिल पंचा, पप्पू भाई शर्मा, अपूर्व पंचा, गीता बेन, नीता बेन, शिल्पा बेन, राकेश और अजय भाई पंचा को गिरफ्तार किया गया है. आरोपी ससुर चन्द्र राम वर्मा ने अपने बेटे प्रिंस को अंधेरे में रखकर बहू का सौदा 80 हजार रुपये में कर लिया था. यह लोग बहू को लेकर गुजरात जाने वाले थे. इस मामले ने दो लोग अभी वांछित चल रहे हैं, जिसमें चन्द्र राम वर्मा और उसका सहयोगी रामू गौतम है. पुलिस इन दोनों की भी जल्द गिरफ्तारी सुनिश्चित करेगी.