पंचायत चुनाव हारने पर बौखलाया पूर्व प्रधान, जेसीबी से खुदवा डाली 200 मीटर सड़क

पंचायत चुनाव परिणाम के बाद बाराबंकी में पूर्व ग्राम प्रधान की गुंडई सामने आई है.

पंचायत चुनाव परिणाम के बाद बाराबंकी में पूर्व ग्राम प्रधान की गुंडई सामने आई है.

Barabanki News: बाराबंकी जिले में सुबेहा थाना क्षेत्र के रोहना मीरपुर ग्राम पंचायत के अहिरन सरैयां गांव का है. यहां पूर्व प्रधान दीपक कुमार तिवारी इस बार चुनाव में तीसरे नंबर पर आए. इससे खफा दीपक ने अपने गुर्गों के साथ जेसीबी लगाकर अपने कार्यकाल में बनाई सड़क ही खुदवा डाली.

  • Share this:

बाराबंकी. उत्तर प्रदेश के बाराबंकी (Barabanki) जिले में पंचायत चुनाव (UP Panchayat Chunav) तो समाप्त हो गया है लेकिन इसके परिणाम के बाद कई बवाल सामने आ रहे हैं. बाराबंकी में प्रधानी का चुनाव हारने के बाद पूर्व प्रधान ने जो किया, वो आपके होश उड़ा देगा. यहां एक पूर्व प्रधान ने चुनाव में हार के बाद गांव की सड़क ही खुदवा डाली. ये सड़क पूर्व प्रधान ने अपने कार्यकाल में ग्रामवासियों के लिए बनवाई थी, लेकिन चुनाव का परिणाम आने पर वह अपनी हार बर्दाश्त नहीं कर सका और समर्थकों के साथ मिलकर जेसीबी से पूरी सड़क ही खुदवा डाली.

पूरा मामला बाराबंकी जिले में सुबेहा थाना क्षेत्र के रोहना मीरपुर ग्राम पंचायत के अहिरन सरैयां गांव का है. यहां गांव के दीपक कुमार तिवारी नाम के एक पूर्व प्रधान ने इस बार के पंचायत चुनाव में भी किस्मत आजमाई. लेकिन चुनाव परिणाम उनके पक्ष में नहीं आया. दीपक पंचायत चुनाव के परिणाम में तीसरे नंबर पर आए. गांव के लोगों ने बताया कि इसी के बाद दीपक का गुस्सा फूट पड़ा. नाराज दीपक ने अपने गुर्गों के साथ जेसीबी लगाकर अपने कार्यकाल में बनाई सड़क ही खुदवा डाली. पूर्व प्रधान ने अपने कार्यकाल बनाई गई तकरीबन 200 मीटर सड़क का नामोनिशान मिटा दिया.

ग्रामीणों ने अधिकारियों से की शिकायत

ग्रामीणों ने सड़क खोदने की शिकायत अधिकारियों से की है. गांव के पूर्व प्रधान कृपा शंकर तिवारी ने बताया कि इस बार के चुनाव में दीपक तिवारी तीसरे नम्बर नंबर पर आया. जिस पर इस गांव से कम वोट मिलने पर अपने गुर्गों और जेसीबी के साथ गांव पहुंचे और सड़क खुदवा डाली. इस बार चुनाव में साइना गांव के निवासी रामबाबू शुक्ला यहां से प्रधान हुए हैं और दीपक ने तीसरे नंबर पर आने का बदला लेने के लिए 8 साल पहले बना रास्ता जेसीबी से खुदवा डाला. ग्रामीणों के मुताबिक अधिकारियों ने जांच कराकर कार्रवाई का आश्वासन दिया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज