आखरी वक्त तक नाउम्मीद नहीं हुए थे लोग, अटल जी के लिए मांगी थी दुआ

उनके अच्छे स्वास्थ्य को लेकर मदरसा अरबिया हलफीउल उलूम में भी मौलाना और वहां तालीम ले रहे बच्चों ने दुआ मांगी.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 16, 2018, 5:59 PM IST
आखरी वक्त तक नाउम्मीद नहीं हुए थे लोग, अटल जी के लिए मांगी थी दुआ
अटल बिहारी वाजपेयी के लिए मदरसे में बच्चों ने मांगी दुआ
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 16, 2018, 5:59 PM IST
भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी अब हमारे बीच नहीं रहे. उन्हें दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में फुल लाइफ सपोर्ट पर रखा गया था. इससे पहले एम्स की तरफ से जारी मेडिकल बुलेटिन में अटल जी की हालत नाजुक बताई गई थी. 93 साल के अटल बिहारी वाजपेयी लगभग 9 हफ्तों से एम्स में एडमिट थे. अटल जी को किडनी में इन्फेक्शन और कुछ दूसरी परेशानियों के चलते एडमिट कराया गया था.

अटल बिहारी वाजपेयी के अच्छे स्वास्थ्य को लेकर सत्ता पक्ष, विपक्ष के अलावा देशभर के लोग दुआ मांगी थी. अटल बिहारी वाजपेयी जल्द स्वस्थ होने के लिए जगह-जगह प्रार्थना की जा रही थीं. बाराबंकी जिले में भी लोग अटल बिहारी वाजपेयी की दीर्घायु के लिए पूजा-हवन कर रहे थे. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत बिगड़ने और उनके एम्स में भर्ती होने की खबर लगते ही जिले भर के लोग दुखी हो गए थे. उनके अच्छे स्वास्थ्य को लेकर मदरसा अरबिया हलफीउल उलूम में भी मौलाना और वहां तालीम ले रहे बच्चों ने भी दुआएं मांगी थी. मदरसे में सारे बच्चे अपने साथ अटल जी की फोटो लेकर उनके जल्दी अच्छे होने की प्रार्थना कर रहे थे.

यह भी पढ़ें: आखिर क्यों अविवाहित ही रह गए अटल बिहारी वाजपेयी?

मदरसे में पढ़ाने वाले मौलाना फकरुद्दीन के मुताबिक अटल जी हम सब के लिए बेहद अजीज थे. अटल जी इन दिनों काफी बीमार चल रहे हैं और अस्पताल में भर्ती हैं. मौलाना ने बताया कि हमने सभी बच्चों के साथ मिलकर उनके ठीक होने की दुआ मांगी थी.

इसके अलावा भी प्रदेश के कई जिलों में पूजा, हवन और प्रार्थनाओं का दौर जारी है. अटल जी के समर्थक अपने-अपने तरीके से उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना कर रहे थे.

(रिपोर्ट: अनिरुद्ध शुक्ला)
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर