होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Psycho Killer of Barabanki: सौतेली मांओं के टॉर्चर ने बनाया साइको, जानिए इनसाइड स्टोरी

Psycho Killer of Barabanki: सौतेली मांओं के टॉर्चर ने बनाया साइको, जानिए इनसाइड स्टोरी

Inside Story Psycho Killer: साइको किलर अमरेंद्र रावत (20) ने बताया कि उसके पिता ने तीन शादियां की हैं. उसकी पहली मां की ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट : अनिरुद्ध शुक्ला

बाराबंकी. बाराबंकी और अयोध्या पुलिस के लिए सिरदर्द बना साइको किलर आखिरकार पकड़ा गया. इस साइको किलर को बाराबंकी जनपद के रामसनेहीघाट थाने से सटे अयोध्या जिले के मवई थाना की पुलिस ने गिरफ्तार किया है. यह साइको किलर केवल बुजुर्ग महिलाओं को ही टारगेट करता था.

दरअसल, पिछले कई दिनों से इस साइको किलर की तलाश में बाराबंकी पुलिस की 6 टीमें, दो सीओ और अयोध्या जिले की पुलिस लगी हुई थी. पुलिस पूछताछ में साइको किलर ने अपनी इस हरकत को ताबीज का असर बताया है. उसके मुताबिक, वह अपनी दो सौतेली मां के टॉर्चर के चलते महिलाओं से नफरत करने लगा था और इसीलिए उन्हें अपना शिकार बना रहा था. पुलिस ने आरोपी की फोटो वायरल कर लोगों से उसे पकड़वाने की अपील भी की थी.

ऐसे पकड़ में आया

यह साइको किलर तब पकड़ा गया जब यह हुनहुना गांव में घास लेने गई एक महिला को खेत में घसीट कर ले जा रहा था. तभी एक दूसरी महिला ने उसे देखकर शोर मचाना शुरू कर दिया. शोर सुनकर ग्रामीण आ गए और उन्होंने साइको किलर को दबोच लिया. इसके पकड़े जाने की जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी को अपनी गिरफ्त में ले लिया. आरोपी ने पूछताछ में चार हत्याओं की बात कबूल कर ली है.

सौतेली मांओं के टार्चर का असर

जानकारी के मुताबिक आरोपी साइको किलर का नाम अमरेंद्र रावत है. इसकी उम्र लगभग 20 साल है और यह असन्दरा थाना क्षेत्र के एक गांव का रहने वाला है. यह 6 महीने पहले सूरत चला गया था और वहां से वापस आने के बाद इसने इस तरह की वारदातों को अंजाम देना शुरू किया. आरोपी ने पूछताछ में बताया कि उसके पिता ने तीन शादियां की हैं. पहली मां की मौत के बाद उसे दोनों सौतेली मांओं से काफी उपेक्षा सहनी पड़ी. पांच साल पहले उसकी शादी हुई थी, लेकिन गौना कभी नहीं हुआ था. इन्हीं वजहों के वह महिलाओं से नफरत करने लगा और उन्हें अपना शिकार बना रहा था.

तीन हत्याओं की वारदात कबूली

साइको किलर ने पुलिस को बताया कि वह बाराबंकी में तीन महिलाओं की हत्या और मवई के एक गांव में भी एक महिला की हत्या कर चुका है. सबसे पहले उसने अयोध्या जिले के मवई थाना क्षेत्र के खुशेटी गांव में बीते 6 दिसंबर को एक वृद्ध महिला की हत्या की थी. दूसरी हत्या उसने बाराबंकी में रामसनेहीघाट के इब्राहिमा बाद में की. यहां 17 दिसंबर को वृद्ध महिला का शव मिला था. इसके बाद 29 दिसंबर को रामसनेहीघाट कोतवाली से 3 किमी दूर ठठेरुआ गांव में शौच के लिए निकली 55 वर्षीय महिला को भी इसी ने मारा था. इस महिला का शव 30 दिसंबर को खेत में मिला था. जुलाई महीने में भी इसी क्षेत्र में इन्हीं हालात में एक महिला का शव पाया गया था. जिसे लेकर भी इसने जानकारी दी है.

ताबीज से परेशान था

बाराबंकी के एसपी दिनेश कुमार सिंह के मुताबिक, पुलिस पूछताछ में इस किलर ने बताया कि उसे किसी ने ताबीज खिला दिया था. इसके लिए वह असंद्रा थाना के पूरे खुशहाल गांव में एक बाबा के यहां भी जाता था. किलर ने बताया कि यह ताबीज का असर था कि जब वह किसी वृद्ध महिला को अकेला देखता तो उस पर शैतान सवार हो जाता था. उसने बताया कि उसने 8 बार ताबीज गिरवाई, लेकिन उसे कोई फायदा नहीं हुआ. हालांकि एसपी ने इसे अंधविश्वास बताते हुए कहा कि बाराबंकी पुलिस उसे अपनी गिरफ्त में भी लेगी और आगे की कार्रवाई करेगी.

Tags: Barabanki News, Crime in up, Psycho Arrested

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें