अधिकारियों ने CM योगी के हाथों बंटवा दी घटिया क्वालिटी की राहत सामग्री!

दरअसल सीएम योगी प्रदेश के कई जिलों में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण कर रहे थे. इसी दौरान वह बाराबंकी आए और उन्होंने बाढ़ से पीड़ित लोगों को राहत सामग्री भी बांटी.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 24, 2018, 10:17 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 24, 2018, 10:17 PM IST
उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में घाघरा नदी में बाढ़ के कारण तराई इलाकों में कोहराम मचा है. बाढ़ पीड़ित एक ओर जहां प्राकृतिक आपदा की मार झेल रहे हैं, तो दूसरी ओर वह राहत सामग्री पाने में भी मात खा रहे हैं. दरअसल बाढ़ पीड़ितों में बांटी जाने वाली राहत सामग्री भी भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ चुकी है. राहत सामग्री की घटिया क्वालिटी और घटतौली की शिकायत लेकर ग्रामीण आए दिन हंगामा करते थे, लेकिन प्रशासनिक अधिकारियों की आंखें नहीं खुलीं. हद तो तब हो गई जब अधिकारियों ने सीएम योगी आदित्यनाथ के हाथों से जो राहत सामग्री बंटवाई, वो बेहद घटिया क्वालिटी की थी.

पीड़ितों के आरोपों पर शुक्रवार को मुहर तब लग गई जब आलाअधिकारियों ने सीएम योगी आदित्यनाथ के हाथ से ही घटिया राहत सामग्री बंटवा दी. दरअसल सीएम योगी प्रदेश के कई जिलों में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण कर रहे थे. इसी दौरान वह बाराबंकी आए और उन्होंने बाढ़ से पीड़ित लोगों को राहत सामग्री भी बांटी. लेकिन राहत सामग्री के अंदर जो सामान है, वह बाढ़ पीड़ितों के साथ किसी मजाक से कम नहीं. राहत सामग्री में मिला आलू बिलकुल सड़ चुका है और बदबू मार रहा है. इसके अलावा राहत सामग्री के अंदर का और भी तमाम सामान बेहद घटिया क्वालिटी का है.

बाढ़ पीड़ितों का कहना है कि उनके साथ एक बार फिर मजाक किया गया है. राहत सामग्री के साथ मिला आलू एकदम सड़ा है और खाने के लायक नहीं है. इसके अलावा और भी दूसरे जो सामन पैकेट में हैं, वह भी एकदम घटिया क्वालिटी के हैं. लोगों ने आरोप लगाया कि उनको मिली राहत सामग्री में काफी सामान गायब भी है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर