…जब 80 साल के बुजुर्ग साधु ने डीएम से लगाई मर्दानगी टेस्ट कराने की गुहार

HARISH SHARMA | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 22, 2019, 12:50 PM IST
…जब 80 साल के बुजुर्ग साधु ने डीएम से लगाई मर्दानगी टेस्ट कराने की गुहार
यूपी के बरेली में 82 साल के एक बुजुर्ग साधु ने जिला प्रशासन से अपनी मर्दानगी का टेस्ट कराने की मांग की है.

बरेली में धमकियों से परेशान एक बुजुर्ग ने डीएम से मर्दानगी टेस्ट (Potency Test) कराने की अपील की है. इस मामले की जांच एसडीएम को सौंपी गई है.

  • Share this:
उत्तर प्रदेश के बरेली (Bareilly) में भूमाफियाओं की शिकायत करना 80 वर्षीय बुजुर्ग साधु को भारी पड़ रहा है. बुजुर्ग का आरोप है कि दबंग उसे रेप के झूठे मामले में जेल भिजवाने की धमकी दे रहे हैं. धमकियों से परेशान बुजुर्ग ने प्रभारी डीएम से अब मर्दानगी टेस्ट (Potency Test) कराने की अपील की है. मामले में प्रभारी डीएम सतेंद्र कुमार ने एसडीएम नवाबगंज को मामले की जांच सौंपी है.

दरअसल, नवाबगंज थाना क्षेत्र में गुलड़ि‍या धीमर गांव में साधु रामदास का आश्रम है. साधु का आरोप है कि कुछ दबंगों ने कई बीघे में फैले इस आश्रम की जमीन पर कब्जा कर लिया है. उन्होंने कहा कि अवैध कब्जे के खिलाफ आवाज उठाने पर दबंग उन्‍हें फर्जी केस में फंसाने की कोशिश में हैं. साधु ने आशंका जाहिर की कि ये लोग उन्हें रेप के झूठे केस में भी फंसा सकते हैं. यही कारण है कि वह अपना मर्दानगी टेस्ट करवाना चाहते हैं.

महिला दे रही धमकी
साधु के अनुसार, जिस शख्स ने आश्रम की जमीन पर कब्जा किया है, उसकी पत्नी पहले ही उन पर रेप का आरोप लगा चुकी है. हालांकि, इस बारे में पुलिस को किसी तरह की कोई शिकायत नहीं हुई है. अब महिला फिर से मुझे रेप के झूठे केस में फंसाने की धमकी दे रही है. अगर वह पुलिस के पास जाती है तो जांच होने तक उन्‍हें बिना किसी गलती के जेल में रहना पड़ेगा. यही वजह है कि उन्होंने मर्दानगी टेस्ट कराने की मांग की है.

बिना एफआईआर पोटेंसी टेस्ट नहीं हो सकता: प्रभारी डीएम

मामले में प्रभारी डीएम सत्येंद्र कुमार ने कहा कि बिना किसी एफआईआर के पोटेंसी टेस्ट कराने का नियम नहीं है. इस मामले को चीफ मेडिकल ऑफिसर को भेज दिया गया है. वहीं, एसडीएम (नवाबगंज) को मामले की जांच सौंपी गई है. उन्होंने कहा कि नियम के मुताबिक, एफआईआर के बाद जांच के दौरान ही पुलिस इस टेस्ट के लिए जा सकती है. वह जमीन विवाद को लेकर परेशान हैं, ऐसे में हमने एसडीएम को इस मामले की जांच करने और उचित कार्रवाई का निर्देश दिया है.

ये भी पढ़ें:
Loading...

22 साल पहले दफ़न हुए शख्स की लाश ज्यों की त्यों मिली

गुपचुप तरीके से साक्षी और अजितेश ने कराया शादी का पंजीकरण

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बरेली से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 22, 2019, 12:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...