बरेली: वकील महिला की घर में सर कटी लाश मिलने से सनसनी

प्रारम्भिक जांच में पुलिस को पता चला है कि सीमा शर्मा तीन मोबाइल नंबर प्रयोग करती थी. सीमा शर्मा की हत्या के बाद पुलिस ने घटना स्थल का मुआयना किया तो पुलिस को मौके से कोई मोबाइल फोन बरामद नहीं हुआ है.

HARISH SHARMA | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 19, 2018, 3:58 PM IST
बरेली: वकील महिला की घर में सर कटी लाश मिलने से सनसनी
मौके पर जांच करती पुलिस. Photo: News 18
HARISH SHARMA | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 19, 2018, 3:58 PM IST
उत्तर प्रदेश के बरेली में बदमाशों ने एक बार फिर बरेली पुलिस को खुली चुनौती दी है. बदमाशों ने शहर के सबसे सुरक्षित माने जाने वाले सिविल लाइंस इलाके में रिटायर्ड दरोगा की अधिवक्ता पत्नी की गला काट कर हत्या कर दी. बदमाशों ने महिला का सर ही धड़ से अलग कर दिया. महिला की हत्या की सूचना पर पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. घटना की सूचना मिलने पर आईजी डीके ठाकुर ने मौके पर पहुंच कर घटनास्थल का मुआयना किया. आईजी की माने तो इस हत्याकांड के पीछे किसी परचित का हाथ है.

शहर कोतवाली इलाके में स्टेशन रोड पर आबकारी कार्यालय के सामने वाली गली में 57 वर्षीय सीमा शर्मा अकेले रहती थी. सीमा के पति आरके शर्मा यूपी पुलिस में दरोगा थे और वो रिटायर हो चुके है. पति से विवाद के बाद करीब 15 साल से वो अकेले ही इस मकान में रह रही थी. उनका बेटा आकाश भी उनसे अलग रहता है. महिला के भाई ने शुक्रवार को उसको शाम को फोन किया था, उस समय बात होने के बाद फोन कट गया फिर सीमा से सम्पर्क नहीं हो पाया. उसके बाद शनिवार को महिला के परिचित बरेली आए और उन्होंने इसकी जानकारी पुलिस को दी.

पुलिस ने रविवार को मकान का ताला तोड़ कर तलाशी ली तो अंदर कमरे में महिला की खून से लथपथ लाश मिली. किसी ने बड़ी बेहरहमी से गला काटकर महिला की हत्या कर दी थी और महिला का सर धड़ से अलग कर दिया गया था. महिला के शव से दुर्गंध आ रही थी, जिससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि महिला की हत्या शुक्रवार की रात में ही कर दी गई थी.

पुलिस को किसी करीबी के हत्या में शामिल होने का शक

महिला की हत्या की सूचना पर आईजी डीके ठाकुर मौके पर पहुंचे और उसने घटनास्थल का मुआयना किया और महिला के परिजनों से बात की. आईजी की मानें तो महिला की हत्या में किसी जान पहचान के आदमी का ही हाथ लग रहा है. फिलहाल उन्होंने पुलिस को घटना के खुलासे के निर्देश दिए है.

प्रारम्भिक जांच में पुलिस को पता चला है कि सीमा शर्मा तीन मोबाइल नंबर प्रयोग करती थी. सीमा शर्मा की हत्या के बाद पुलिस ने घटना स्थल का मुआयना किया तो पुलिस को मौके से कोई मोबाइल फोन बरामद नहीं हुआ है. अंदाजा लगाया जा रहा है कि हत्यारा कत्ल करने के बाद मोबाइल अपने साथ ले गया.

गूंथा हुआ आटा दे रहा अहम सुराग

पुलिस ने जब घटनास्थल की तलाशी ली तो मौके से पुलिस को गूंथा हुआ आटा मिला है, लग रहा है कि घटना को अंजाम देने वाले महिला को अच्छी तरह से जानते थे. उनके लिए ही सीमा शर्मा ने रोटी बनाने के आटे को गूथा होगा. आटे की तादात को देख कर लगता है कि हत्यारे दो से ज्यादा थे.

आईजी का कहना है कि शुरूआती जांच में पता चला है कि सीमा शर्मा ने कुछ दिनों पहले ही रामपुर में 65 लाख की जमीन बेची थी. इसके साथ ही बताया जा रहा है कि मौजूदा समय में वो जिस मकान में रह रही थी, उसके मकान मालिक से भी सीमा का विवाद चल रहा था.

ये भी पढ़ें: 

मिर्जापुर: कस्तूरबा गांधी विद्यालय में एक लड़की की मौत से हड़कंप, वार्डन निलंबित, जांच के आदेश

शाहजहांपुर: अश्लील वीडियो बनाकर युवती के साथ गैंगरेप, केस दर्ज
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर