• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • BAREILLY BAREILLY A MAN ANNOUNCED RELIGIOUS CONVERSION AFTER HE LOST GRAM PRADHAN ELECTION BJP LEADERS REACH TO CALM DOWN HIM NODMK8

बरेली: ग्राम प्रधान चुनाव हारने पर किया धर्म परिवर्तन का ऐलान, समझाने घर पहुंचे बीजेपी नेता

धर्म परिवर्तन का ऐलान करने वाले सुरेश गंगवार को समझाने-मनाने के लिए स्थानीय बीजेपी नेताओं की मौजूदगी में गांव में पंचायत चल रही है

आरोप है कि गांव के लोगों ने चुनावी दावत भी उड़ा ली लेकिन सुरेश गंगवार को वोट नहीं दी. ग्राम प्रधान का चुनाव (Gram Pradhan Election) लड़े सुरेश गंगवार की मानें तो चुनाव हारने के बाद उनकी बिरादरी के लोग उनका मजाक उड़ाते हैं. इन सब बातों से परेशान होकर उन्होंने हिंदू (Hindu) धर्म छोड़कर दूसरे धर्म में जाने का ऐलान किया था

  • Share this:
बरेली. उत्तर प्रदेश के बरेली (Bareilly) में प्रधानी चुनाव में बिरादरी के लोगों का सहयोग न मिलने के कारण प्रधान प्रत्याशी ने धर्म परिवर्तन (Religious Conversion) करने का ऐलान किया है. धर्म परिवर्तन की बात सुनते ही बीजेपी (BJP) के स्थानीय नेता उन्हें मनाने उनके घर पहुंच. बुधवार को भदपुरा ब्लॉक के ठिरिया बन्नो गांव में बीजेपी नेताओं और गांववालों के साथ घंटों पंचायत चली.

बताया जा रहा है कि प्रधान प्रत्याशी रहे सुरेश गंगवार ने हिंदू धर्म छोड़कर दूसरे धर्म में जाने का ऐलान किया था जिसके बाद बीजेपी नेता भुजेन्द्र गंगवार और उनके साथी नेताओं और ग्रामीणों के द्वारा उन्हें मनाने की पंचायत की गई. दरअसल ठिरिया बन्नो गांव के निवासी सुरेश गंगवार हाल ही में संपन्न ग्राम प्रधान का चुनाव लड़े थे. नतीजों में उन्हें केवल 43 वोट मिले थे जिससे उनकी करारी हार हुई. सुरेश गंगवार ने बताया कि उनके गांव के परिवार और बिरादरी के लोगों ने उन्हें पंचायत चुनाव लड़ने के लिए कहा था. साथ ही कहा कि वो सब मिलकर उनका सहयोग करेंगे और चुनाव में विजयी बनाएंगे. मगर किसी ने प्रधानी के चुनाव में उनका सहयोग नहीं किया और ना ही उनको वोट दिए जिसके चलते उनको मात्र 43 वोट ही मिले.

आरोप है कि गांव के लोगों ने चुनावी दावत भी उड़ा ली लेकिन सुरेश गंगवार को वोट नहीं दी. ग्राम प्रधान का चुनाव लड़े सुरेश गंगवार की मानें तो चुनाव हारने के बाद उनकी बिरादरी के लोग उनका मजाक उड़ाते हैं. इन सब बातों से परेशान होकर उन्होंने हिंदू धर्म छोड़कर दूसरे धर्म में जाने का ऐलान किया था.

वहीं, बीजेपी के नेताओं और स्थानीय लोगों को समझाने-बुझाने के बाद सुरेश गंगवार अब धर्म परिवर्तन की बात से इनकार कर रहे हैं. फिलहाल प्रधानी चुनाव हारने के कारण धर्म परिवर्तन का ऐलान करने वाले सुरेश गंगवार इलाके में चर्चा का विषय बने हुए हैं.
Published by:Manish Kumar
First published: