UP: प्रधानी चुनाव को लेकर पहले हुई थी ताऊ की हत्या, अब 7 साल के मासूम को भी उतरा मौत के घाट

नाबालिग बच्ची अपनी मां के साथ नानी के यहां रह रही थी. यह परिवार उत्तर प्रदेश के बनारस क्षेत्र का रहने वाला है. सांकेतिक तस्वीर
नाबालिग बच्ची अपनी मां के साथ नानी के यहां रह रही थी. यह परिवार उत्तर प्रदेश के बनारस क्षेत्र का रहने वाला है. सांकेतिक तस्वीर

2016 में चुनावी रंजिश में ही मृतक बच्चे के ताऊ भजनलाल की हत्या कर दी गई थी.

  • Share this:
बरेली. यूपी में प्रधानी चुनावी (Gram Pradhan Election) की सुगबुगाहट होते ही चुनावी रंजिश में खून खराबा भी होना शुरू हो गया हैं. बरेली (Bareilly) में शनिवार को चुनावी रंजिश की वजह से एक 7 साल के मासूम की बड़ी ही बेरहमी से हत्या कर उसके शव को तालाब में फेक दिया गया. पुलिस (Police) ने बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. वारदात सिरौली थाना क्षेत्र के बरशेर गांव की है, जहां शनिवार शाम को घर के बाहर खेलते वक्त बच्चे का अपहरण कर लिया गया और फिर उसे मौत के घाट उतार दिया गया.

मृतक बच्चे के चाचा सुंदरलाल ने बताया कि उनका 7 साल का भतीजा गुड्डू घर के बाहर अन्य बच्चों के साथ खेल रहा था, तभी चुनावी रंजिश के चलते प्रधान के करीबियों ने उसका अपहरण कर लिया और फिर उसकी बेरहमी से हत्या कर दी. बच्चे की जीभ और गुप्तांग काटकर और उसके चेहरे को गोदकर उसकी हत्या कर दी गई. फिर उसकी लाश को तालाब में फेंक दिया. सुंदरलाल ने बताया कि 2016 में चुनावी रंजिश में ही उसके भाई भजनलाल (मृतक बच्चे का ताऊ) की हत्या कर दी गई थी और आज भतीजे को भी इन लोगों ने मार डाला.

उधर मासूम बच्चे की नृशंस हत्या की खबर लगते ही एसपी ग्रामीण और सीओ आंवला सिरौली पुलिस के साथ घटनास्थल पहुंचे और मृतक बच्चे के परिजनों को आश्वाशन दिया कि जल्द ही आरोपियों की गिरफ्तारी कर ली जाएगी. इस मामले में एसपी ग्रामीण डॉ संसार सिंह का कहना है कि शनिवार शाम से एक 7 साल का बच्चा गुड्डू गायब था. रविवार सुबह उसका शव तालाब में मिला. उसके शरीर पर चोट के निशाना थे. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उसकी मौत चोट से हुई है. रंजिश के चलते बच्चे की हत्या को अंजाम दिया गया है. इस मामले में 6 लोंगो के खिलाफ नामजद हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है.
गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में इसी साल प्रधानी के चुनाव होने हैं. ऐसे में अब गांव में चुनावी रंजिश में खून खराबे की वारदातें भी बढ़ गई हैं.
ये भी पढ़ें:



पीएम नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट काशी विश्वनाथ धाम का दिखने लगा स्वरूप

मेरठ CAA हिंसा की साजिश रचने वाला PFI का सदस्य मुफ्ती शहजाद गिरफ्तार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज