Lockdown में ढील मिलते ही बरेली में अपराधों की बाढ़, दो हत्याओं से दहला इलाका
Bareilly News in Hindi

Lockdown में ढील मिलते ही बरेली में अपराधों की बाढ़, दो हत्याओं से दहला इलाका
बरेली में अपराधों की बाढ़

पहली घटना रसुइया गांव की है, जहां बिथरी के अहियापुर निवासी वीजनेश यादव ट्रैक्टर ट्राली में गेहूं लादकर भाई के साथ मील जा रहे थे. उसी दौरान गोली मारकर उनकी हत्‍या (Murder) कर दी गई.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
बरेली. लॉकडाउन (Lockdown) में ढील मिलते ही बरेली (Bareilly) में अपराधों की बाढ़ आ गई है. बरेली का बिथरी इलाका हत्‍या की दो अलग-अलग (Murder) घटनाओं से दहल गया. रसुइया गांव में ट्रैक्टर ट्राली पर गेंहू लेकर जा रहे किसान की आधा दर्जन हथियारबंद अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी, तो वहीं बदमाशों ने एक मजदूर का ई-रिक्शा लूटने के बाद हत्या कर दी.

पहली घटना रसुइया गांव की है, जहां बिथरी के अहियापुर निवासी वीजनेश यादव ट्रैक्टर ट्राली में गेहूं लादकर भाई के साथ मील जा रहे थे. उसी दौरान पुरानी रंजिश में रसुइया गांव के पास छह लोगों ने गोली मारकर हत्या की. गोली मारने के बाद बदमाशों ने किसान वीजनेश पर धारदार हथियार से हमला कर उसकी हत्‍या कर दी. भाई ने भाग कर जान बचाई और पुलिस को सूचना दी. एसपी सुभाष चंद्र गंगवार का कहना है कि इस मामले में अशोक, जीतू, परशुराम, सतेंद्र और संतोष के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज की गई है.

किसान की हत्या
दूसरा मामला बिथरी चैनपुर थाना क्षेत्र के ही बड़े बाइपास का है, जहां एक ढाबे के पीछे एक मजदूर की खून से लथपथ लाश मिली. मजदूर के शव की शिनाख्त बारादरी थाना क्षेत्र के जोगी नवादा कमल के रूप में हुई हैं. कमल की मां ने बताया कि उसने ई-रिक्शा किस्तों पर लिया था और उसे चलाकर परिवार का पेट पालता था. शुक्रवार शाम जब कमल काफी देर तक वापस नहीं आया तो घरवालों को उसकी चिंता सताने लगी. परिवार के लोग उसे ढूढने निकल पड़े, लेकिन उसका कहीं कोई सुराग नहीं लगा.



युवक का मिला शव


शनिवार सुबह पुलिस को सूचना मिली की बिथरी चैनपुर थाना क्षेत्र स्थित बड़े बाइपास पर एक ढाबे के पीछे किसी युवक का खून से लथपथ शव पड़ा हुआ है. पुलिस ने शव का फोटो खिंचकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया. जिसके बाद परिजनों को जब इस बात की जानकारी हुई तो उन्होंने फोटो से उसे पहचान लिया. मृतक के दोस्त अजय वर्मा का कहना है कि उसकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी.  ऐसा लगता है कि किसी ने उसका रिक्शा चुराया होगा और उसने उन्हें पहचान लिया होगा या विरोध किया होगा जिस वजह से उसे मौत के घाट उतार दिया. एसपी एससी गंगवार का कहना है कि युवक की चाकू मारकर हत्या की गई है. बहरहाल दोनों ही हत्याओं में पुलिस के हाथ खाली है. अब देखना है कि पुलिस कब तक हत्यारों को गिरफ्तार करती है.

ये भी पढ़ें:

पीएम नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट काशी विश्वनाथ धाम का दिखने लगा स्वरूप

मेरठ CAA हिंसा की साजिश रचने वाला PFI का सदस्य मुफ्ती शहजाद गिरफ्तार
First published: June 7, 2020, 6:20 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading