बरेलीः रहस्यमयी बुखार से 200 से अधिक की मौत, भेजी गईं स्पेशलिस्ट टीम

न्यूज 18 द्वारा प्रमुखता से खबर उठाने के बाद सूबे की योगी सरकार ने मामले का संज्ञान में लेते हुए दिल्ली और लखनऊ से बुखार के स्पेशलिस्ट डॉक्टरों की चार टीमें बरेली और बदायूं में रवाना की है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 10, 2018, 8:36 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 10, 2018, 8:36 PM IST
बरेली और उसके आसपास के जिलों में फैले रहस्यमयी बुखार के कहर से अब तक कुल 200 से अधिक लोगों की मौत की खबर है. न्यूज 18 द्वारा प्रमुखता से खबर उठाने के बाद सूबे की योगी सरकार ने मामले का संज्ञान में लेते हुए दिल्ली और लखनऊ से बुखार के स्पेशलिस्ट डॉक्टरों की चार टीमें बरेली और बदायूं में रवाना की है.

यह भी पढ़ें- बरेलीः रहस्यमय ढंग से हॉस्पिटल से लापता हुई 9 माह की गर्भवती संवासिनी

रिपोर्ट के मुताबिक अकेले बरेली जिले में 100 से अधिक लोग रहस्यमयी बुखार की चपेट में आकर काल के गाल में समा गए हैं. हालांकि स्वास्थ्य विभाग ने जिले में सिर्फ 19 लोगों की मौत की बात स्वीकार की है. विभाग ने गांवों में कैम्प लगाकर मरीजों को दवा देने का दावा किया है, लेकिन जिला अस्पताल के विभिन्न वार्डो में भर्ती मरीज बुखार पीड़ित हालात की असली कहानी बयां कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें-बरेलीः चोरी का माल खरीदने वाले दो सर्राफा व्यापारी गिरफ्तार, 16 लाख का सोना बरामद

गौरतलब है बरसात के बाद से बरेली जिले में रहस्यमयी बुखार का प्रकोप चल रहा है और इसका सबसे बुरा असर देहात क्षेत्रों में देखने को मिल रहा है, जहां हजारों लोग बुखार की चपेट में हैं. बताया जाता है बुखार पीड़ित मरीजों से 350 बेड वाला जिला अस्पताल भरा पड़ा है और मरीजों की संख्या में वृद्धि होने के चलते मरीजों को महिला अस्पताल में भी भर्ती किया गया है.

बरेली जिला अस्पताल के सीएमएस की मानें तो अस्पताल के ओपीडी में हर रोज लगभग 2000 मरीज आते है, जिनमें अधिकतर मरीज बुखार पीड़ित हैं. हालांकि जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों की मानें तो अस्पताल कर्मियों की लापरवाही से उनका ठीक से इलाज नहीं हो रहा है.

यह भी पढ़ें-बरेलीः उधार के पैसे मांगे तो मासूम पर उड़ेल दी खौलती चाय, बुरी तरह झुलसा

सीएमओ के मुताबिक जिले में अब तक बुखार से कुल 19 मौत हुई है जबकि जिले भर में 100 से अधिक मौते होने की अपुष्ट खबरें हैं. हालांकि बरेली में रहस्यमयी बुखार से योगी सरकार अलर्ट पर आ गई है, लेकिन सीएमओ विनीत शुक्ला अभी भी एसी दफ्तर से निकल कर गांवों का दौरा नहीं करने नहीं पहुंचे हैं. हालांकि सरकार ने लापरवाही बरतने के लिए बदायूं सीएमओ को सस्पेंड कर दिया है.

(रिपोर्ट-हरीश शर्मा, बरेली)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर